कुंडली मिलान कितना जरूरी है, शादी के लिए कितना महत्वपूर्ण ?

विवाह से पहले वर और वधु की कुंडली का मिलना कर लेना अच्छा होता है। विवाह को हिंदू धर्म का सर्वोच्च कर्तव्य माना जाता है और इसका हमारे जीवन में विशेष महत्व है। हम भारतीय चाहते हैं कि हमारा वैवाहिक जीवन सफल हो और लंबे समय तक चले। यद्यपि पश्चिमी संस्कृति में विवाह के बारे में एक अलग नजरिया है। भारतीय संस्कृति में विवाह बहुत ही पारंपरिक और पवित्र बंधन माना जाता हैं। इसके लिए हर धर्म में रीति रिवाज भले ही अलग-अलग हों, लेकिन सभी का लक्ष्य इसे लंबे समय तक चलाना होता है।

आमतौर पर कहा जाता है कि विवाह दो आत्माओं का मिलन है। दो अलग अलग परिवारों के लोग मिलते हैं, दो व्यक्ति अपना नया जीवन शुरू करते हैं। यह जीवन भर चलने वाला एक समर्पण और समझ के साथ विकसित होता है। यह वह प्रक्रिया है जिसमें दोनों को जीवन भर साथ रहना होता है। ऐसे में जब दो अलग अलग लोग साथ आते हैं, शादी करते हैं तो उससे पहले यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि दोनों के विचार, व्यक्तित्व समेत कई कारक हैं, जिनमें मिलाना हो। ऐसे में हम ज्योतिष में कुंडली का मिलान करके उसके माध्यम से यह संभव कर सकते हैं। हम प्रयास कर सकते हैं नव वैवाहिक जोड़े का आने वाला जीवन सुखमय हो सके।


विवाह के लिए कुंडली मिलान

कुंडली मिलान से लड़का और लड़की यानी वर और वधु के बीच कितनी अनुकूलता बनती है, यह देखा जाता है। इसके जरिए दोनों के बीच समानाएं, असमानताएं, अंतर, विशेषता जैसी कई बातें देखी जा सकती है। हम भविष्य में संबंधों के बीच बंधने वाली गांठ को बंधने से पहले ही खोल सकते हैं। उपाय के जरिए उसे सुलझा सकते हैं।

विवाह को लेकर एक अहम बात यह है कि विवाह जिसका भी हो, लंबे समय तक टिकने वाला होना चाहिए। इसके लिए आपको कुंडली मिलान करके एक सटीक विचार प्राप्त होता है। आप ग्रहों की स्थिति और गोचर को देखकर कई बातें तय कर सकते हैं, उनके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। भविष्य में जो समस्याएं आ सकती हैं, उनकी जांच कर सकते हैं, उनके लिए अभी से समाधान तलाश सकते हैं।


कुंडली मिलान से जानिए रिश्तों के समीकरण

कुंडली मिलान में कुल 36 गुण होते हैं, ये गुण दो लोगों यानी वर वधु के बीच बीच अनुकूलता को दर्शाते हैं। कुंडली मिलान या मैच-मेकिंग में 8 महत्वपूर्ण बाते होते हैं। इनमें अलग-अलग बिंदुओं और 36 कुल गुण होते हैं। इन 36 में से, कम से कम 18 अंक गुण एक अनुकूल विवाहित जीवन जीने के लिए आवश्यक होते हैं। जिस जोड़े को 18 मिलते हैं वह अच्छा होता है, 24 बहुत अच्छा होता है, और 30 के पार को गुण वैवाहिक बंधन के लिए शानदार माने जाते हैं।


राशिफल मिलान: शारीरिक व मानसिक अनुकूलता जानें

कुंडली मिलान के जरिए हमें हमारे लाइफ पार्टनर के व्यक्तित्व के गुणों का पता चल जाता है। इससे एक दूसरे के प्रति मानसिक समझ साफ हो जाती है। इसके साथ ही, आप जाना जा सकता है कि दोनों के जीवन में क्या लक्ष्य होंगे। आपके और आपके साथी के बीच शारीरिक अनुकूलता, उसकी पसंद नापसंद को भी पहचाना जा सकता है।

यहां शारीरिक अंतरंगता भी एक महत्वपूर्ण कारक है। यह दो जोड़ों के बंधन को मजबूत करती है। विवाहित जीवन को खुशहाल और लंबे समय तक चलने में यह मददगार साबित होता है। कुंडली मिलान से दोनों पति पत्नी के बीच स्वास्थ्य संबंधी कारक के बारे में भी जानकारी हासिल की जा सकती है।


कुंडली से जानिए वित्तीय स्थायित्व

किसी भी जोड़े के लिए भावनाओं के साथ ही वित्तीय स्थायित्व भी बेहद जरूरी कारक है। एक बड़ा सवाल होता है कि शादी के बाद मेरी आर्थिक स्थिति क्या होगी? हर जोड़ा आर्थिक सुरक्षा और आरामदायक जीवन चाहता है। इसमें कुछ भी बुरा नहीं है। होने वाले वर वधू कुंडली मिलान के जरिए सटीक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जान सकते हैं कि शादी के बाद दूल्हा और दुल्हन के पास मौजूद धन की स्थिति क्या रहेगा। शादी के बाद नया संबंध क्या वित्तीय स्थायित्व हासिल करने में मदद करेगा।
आपको इस बात को लेकर सजग हो जाना चाहिए। कुंडली मिलान शादी से पहले और उसके बाद भी पैसों की स्थिति के बारे में बता सकता है। वैसे हमेशा से कहा जाता है कि शादी जीवन में कई बार किस्मत लेकर आती है। यदि आपका मिलन या जोड़ा शुभ है तो निश्चित रूप से शादी के बाद यह जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में आपको उन्नति की ओर से अग्रसर कर सकता है।


प्रेम विवाह में कुंडली का मिलान

यदि एक जोड़ा प्यार करता है और शादी करना चाहता है। इस पर भी यदि कुंडली मिलान के परिणाम सही नहीं मिले हैं तो ऐसे में निराश होने की कतई जरूरत नहीं है। ऐसे में किसी अच्छे ज्योतिषी से सलाह करके आप अपनी समस्याओं के समाधान के लिए उपयुक्त समाधान प्राप्त कर सकते हैं। हां, यह तय कर लें कि आप किसी सही, अच्छे और प्रशिक्षित ज्योतिषी के पास ही जाएं। वह समस्याओं का सही अध्ययन कर, सभी दोषों व नकारात्मक प्रभावों को उपायों के माध्यम से दूर कर सकता है। वह विशेष यंत्र, रत्न या रुद्राक्ष जैसे प्रभावी उपाय सुझा सकता है। इसके अलावा, वैदिक ज्योतिष विशेषज्ञ शक्तिशाली मंत्र और जप करने की सही विधि को लेकर भी अपनी राय दे सकते हैं।

कुंडली मिलान इसलिए आवश्यक है क्योंकि यह आपको जानकारी देता है कि आपका वैवाहिक जीवन कितना सफल है और वह किस दिशा में जा सकता है। यह कहना गलत नहीं होगा कि आपकी शादी की सफलता कुंडली मिलान पर निर्भर करती है। इसलिए आपको इसे कभी भी हल्के में नहीं लेना चाहिए। इस बारे में गंभीरता बरतनी चाहिए।

हमेशा याद रखें, शादी से पहले एक बार अच्छे ज्योतिषी से सलाह जरूर लें। वे निश्चित रूप से आपको सटीक उपायों के साथ गुण मिलान के बारे में जानकारी देंगे। इससे विभिन्न संभावनाओं के बीच सही साथी चुनने का आपका निर्णय आसान हो जाता है।


अक्सर पूछे जाने वाले सवाल(FAQs)

शादी से पहले कुंडली मिलाना जरूरी है क्या?

बिल्कुल, शादी से पहले कुंडली मिलाना जरूरी है। इससे आपको बहुत सी बातों का पता चलेगा और कई बातों का विस्तार से खुलासा हो सकेगा। इससे वर और वधू के मेल के बारे में अधिक स्पष्टता मिल सकेगी। इसके साथ ही, यदि कोई दोष मौजूद है, तो सटीक उपाय किए जा सकेंगे, जिससे समस्याएं कम होंगी और सुखी वैवाहिक जीवन जी सकेंगे। आपको कुंडली मिलान के लिए किसी अच्छे ज्योतिषी से सलाह लेनी चाहिए ।

बिना कुंडली मिलाए शादी का परिणाम क्या होगा?

ऐसा नहीं करने पर वैवाहिक जीवन में आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। विवाह के बाद वर और वधू के बीच मतभेद हो सकते हैं। शारीरिक आकर्षण समाप्त हो सकता है और मानसिक मतभेद होने की संभावना बनी रहती है। इससे आपका वैवाहिक जीवन बर्बाद भी हो सकता है। शादी के बाद आने वाली समस्याओं के बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए, ऐसे में शादी से पहले कुंडली मिलान न करने के कारण पहले नहीं जानते हैं।

प्रेम विवाह में ज्योतिष का कितना महत्व है?

वैदिक ज्योतिष का पालन दुनिया भर के कई लोग करते हैं। कुछ लोग ऐसे होते हैं जो जीवन के सभी क्षेत्रों पर ज्योतिष के प्रभाव को मानते हैं और सभी ज्योतिषी कारकों को देखकर ही आगे बढ़ते हैं। विवाह दो अलग-अलग आत्माओं का मिलन है, और ज्योतिष उन रहस्यों को उजागर कर सकता है जिन्हें कोई नहीं जानता। यही जादू ज्योतिष है। इसलिए, वैदिक ज्योतिष विश्लेषण और आपके जीवन पर ग्रहों के प्रभाव की मदद से जीवन में बेहतर निर्णय लेना बेहतर है।