घर बेचने के लिए इन वास्तु टिप्स का इस्तेमाल करें!

यदि आप अपने घर को बेचने की योजना बना रहे हैं, या फिर आपके पास ऐसी कोई प्रोपर्टी है जिसे सेल करना चाहते हैं। तो इसमें कोई शक नहीं है कि आप अपने घर के लिए अधिकतम मूल्य पाना चाहेंगे। आपके पास ऐसे कई लोग आएंगे जो आपका घर खरीदना चाहेंगे, लेकिन यह जरूरी नहीं है कि उनके साथ आपका सौदा तय हो जाए। जब तक दोनों पक्ष सभी पहलुओं पर राजी नहीं हो जाते तब तक सौदा नहीं हो सकता। लोग आएंगे आपकी सम्पत्ति को देखेंगे, उसकी समीक्षा करेंगे और चले जाएंगे। यह एक लंबी प्रक्रिया भी साबित हो सकती है। कई बार हम खुद भी इस प्रक्रिया में थक जाते हैं। हमें यह प्रक्रिया बोझिल या थकाऊ लगने लगती है। सबसे अहम बात यह है कि पुनर्विक्रय की तलाश में लोग कम ही रहते हैं, ऐसे में जो आपकी सम्पत्ति देखने आ रहा है, वह वास्तव में खरीदना चाहता है या नहीं, यह जानना मुश्किल है। वहीं प्रोपर्टी खरीदने वाले व्यक्ति की क्या मांग है, उसे क्या चाहिए, इसके मुताबिक ही उसे अपने सम्पत्ति दिखाई जानी चाहिए। इसके अलावा आपकी मांग क्या है, आप सम्पत्ति के क्या दाम चाहते हैं, यह भी अहम विषय रहता है। कई बार मनचाहे दाम नहीं मिलने मुश्किल हो जाते हैं।

वहीं दूसरी तरफ संपत्ति बेचने की प्रक्रिया को प्रभावित करने वाले कई कारण हो सकते हैं। ऐसेे में उन चीजों पर काम करना आवश्यक हो जाता है जो आपकी आवश्यकताओं को पूरा करने में आपकी मदद कर सकती हैं। आपके घर का स्थान अच्छी तरह से सुसज्जित हो, उसमें आज की आधुनिक सुविधाएं हों तो यह आपको अपना घर बेचने में मदद कर सकती हैं। संपत्ति बेचने के वास्तु टिप्स के अनुसार ऐसे विशिष्ट उपाय हैं जो आपको अपनी पसंद के अनुसार अपना घर या संपत्ति बेचने में आसानी हो सकती है।


घर और संपत्ति बेचने के लिए वास्तु टिप्स

सही ब्रोकर की तलाश करें

अपना घर बेचने के लिए सही प्रोपर्टी डीलर चुनें। एक ही ब्रोकर को काम पर रखने के बजाय दूसरे विकल्प भी तलाशें। आप अपने घर के लिए अन्य दलालों के साथ भी बात कर सकते हैं। वे आपकी सहायता कर सकते हैं और आपकी आवश्यकता के अनुसार आपको सही सौदा आप तक पहुंचा सकते हैं। उन्हें कुछ ऐसी प्रोपर्टी बताने के लिए कहें, जो वे किसी और भी पहले बेच चुके हैं, इससे उनकी एजेंसी का अनुभव जान पाएंगे। उनके पुराने ग्राहकों और उनके द्वारा डील की जाने वाली संपत्तियों के बारे में जानकारी हासिल करेंं। सुनिश्ति करें कि आपके द्वारा चुना गया ब्रोकर पंजीकृत होना चाहिए। उसका खुद का एक प्रोपर्टी पोर्टल होना चाहिए।

आपके घर का बाहरी हिस्सा

घर का बाहरी भाग थोड़ा आकर्षक होना चाहिए क्योंकि यह खरीदारों का ध्यान आकर्षित करता है। घर की दीवारों को अच्छी तरह से सजाया जाना चाहिए। सुंदर आकर्षक रंग, साफ जमीन और सहेजा हुआ गार्डन, कुछ ऐसी बातें हैं जो आपके घर की सुंदरता को बढ़ा सकती हैं। ये आपके घर की सुंदरता में चार चांद लगा सकती हैं। अपने घर के बाहर हरे-भरे पौधों को लगाने से आपके घर को एक एक्सक्लूसिव लुक मिलेगा।

घर साफ और चमकदार होना चाहिए

एक चमकदार और साफ-सुथरा माहौल घर की देखभाल और रखरखाव के बारे में बताता है। घर धूल से रहित होना चाहिए। दरवाजे, खिड़कियां, टेबल की सतह, अन्य फर्नीचर चमकदार साफ होना चाहिए। आईना, नल, शॉवर और स्नान क्षेत्र बिल्कुल साफ और बेदाग होने चाहिए।

आपकी संपत्ति का ऑनलाइन पंजीकरण

99 एकड़ और मकान. कॉम जैसे रियल एस्टेट पोर्टल पर अपनी संपत्ति को पंजीकृत करें। इन पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया त्वरित, आसान और मुफ्त होती है। ऑनलाइन पोर्टल एक बहुत बड़ा प्लेटफॉर्म है, जहां आपके पास संभावित खरीदारों तक पहुंचने का मौका मिल जाता है।

घर की मरम्मत और रखरखाव

अच्छी तरह से मैंटेन किया गया बाहरी लुक और अंदरूनी देखभाल, घर के प्रति खरीदारों को लुभाती हैं। टूटी हुई टाइलें तो उन्हें तुरंत बदला जाना चाहिए। अगर दीवारों का रंग फीका पड़ गया है तो उन्हें पेंट करवाएं। दरवारे टूट रहे हैं तो उनकी मरम्मत करवाएं। इसके साथ ही सभी लाइट और लैंप चालू हालत में होने चाहिए। कोई बहता हुआ नल, टपकती हुई पाइप लाइन और जंग लगा हुआ फव्वारा, या फिर दागदार फर्श घर में नहीं होना चाहिए।

व्यवस्थित और साफ सुथरा हो घर

घर के सारे कबाड़ और टूटे फूटे हुए सामान को घर में न रखें। अनावश्यक वस्तुओं को फेंक दें। टूटी और बेकार वस्तुओं को घर में से हटा दें। अव्यस्थित घर को व्यवस्थित बनाने की कोशिश करें।

सबसे अच्छे हिस्से को पहले दिखाएं

अगर आपका घर वास्तु के अनुकूल बना हुआ है तो यह जल्द ही बिक्री की संभावनाओं को पूरी कर सकता है। घर का जो सबसे आकर्षक और साफ सुथरा हिस्सा है, उसे सबसे पहले ख्ररीदार को दिखाना चाहिए। घर उजाले से भरपूर होना चाहिए। बालकनी, स्विमिंग पूल, टैरेस गार्डन और हरे-भरे बगीचे का शानदार नजारा कुछ ऐसी आकर्षक विशेषताएं हैं जिन्हें आप खरीदारों के सामने पेश किया जाना चाहिए।

लचीले बनें

ज्यादातर समय, खरीदार किसी घर में शिफ्ट होने से पहले कुछ समय उसमें बिताना चाहते हैं। वे पहले घर में शिफ्ट करना चाहते हैं। अगर ऐसे हालात आपके साथ आते हैं तो आप कुछ दिन किराए के अपार्टमेंट में जा सकते हैं। इस मामले में उदारता दिखाना बेहतर साबित हो सकता है। 

ब्रोकर को दें अतिरिक्त प्रोत्साहन

ब्रोकर को अतिरिक्त प्रोत्साहन का भुगतान करें। यह उसे आपके लिए सबसे अच्छे सौदे की तलाश करने के लिए प्रेरित करेगा।

हर कोने से घर की तस्वीरें क्लिक करें

सौदे के लिए ली जाने वाली तस्वीरों को लेने से पहले यह सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा ली गई हर तस्वीर घर के हर कोने से ली जानी चाहिए। यदि आप इस काम के लिए किसी विशेषज्ञ को नियुक्त करते हैं तो यह भी एक बेहतर कदम साबित हो सकता है।

तय अवधि में सौदा पूरा करें

खरीदारों को सौदे को खारिज करने का कोई कारण न दें। अक्सर यह पाया जाता है कि कई बार विक्रेता यानी बेचने वाले व्यक्ति की योजना पूरी तरह व्यवस्थित नहीं होती है। वह टालमटोल में लगा रहता है, वह सौदे में आगे बढऩे में देरी कर देता है।  ऐसे में कई बार बिक्री सौदे विफल हो जाते हैं। विक्रेता का यह रूख खरीदारों के बीच अरुचि पैदा करता है। जिसके कारण खरीदार सौदे से दूर चले जाते हैं।

संगठित कोठरी और अलमारियाँ

जिस घर बेचा जाना है, अगर उसमें वास्तु के अनुसार अलमारी और खिड़कियां व्यवस्थित और सही जगह पर हैं, तो यह खरीदार को देखने में अच्छी लगती है। यह उसे घर के प्रति न केवल लुभाता है बल्कि घर के अच्छे रखरखाव के प्रति भी आश्वस्त करता है।

एक खरीदार के तौर पर संपत्ति की जांच करें

अपने आप को एक खरीदार समझें और उसी  दृष्टिकोण के अनुसार अपनी सम्पत्ति को देखें। हर कोने से प्रत्येक कमरे की जांच करें और समझें कि खरीदार इसके बारे में क्या सोचेगा। सही लुक के लिए कमरों में रखे फर्नीचर को फिर से व्यवस्थित करें। सटीक योजना बनाएं। दस्तावेजों को व्यवस्थित करें और अपनी संपत्ति के लिए सर्वोत्तम मूल्य तय करें। ऐसे में किसी भी स्थिति में आपके घर का सौदा आपके हाथ से नहीं निकल पाएगा।


ग्रहों का प्रभाव और मकान बेचने के उपाय

संपत्ति बेचने के वास्तु सुझावों के अनुसार किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली संपत्ति बेचने के विभिन्न दृष्टिकोणों और संभावनाओं को तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। ग्रहों की चाल भी घर की खरीद-फरोख्त को प्रभावित करती है।

नीचे हम वास्तु शास्त्र के अनुसार ग्रहों के प्रभाव और संपत्ति को बेचने के उपायों के बारे में बता रहे हैं।

मंगल ग्रह

संपत्ति बेचने के मामले में वास्तु टिप्स के अनुसार मंगल को धन और संपत्ति के मामले में सबसे विशिष्ट ग्रह के रूप में जाना जाता है। यह ग्रह भूमि और पार्सल से जुड़ा है, इसलिए इसे भूमिपुत्र भी कहा जाता है। यदि आप इस ग्रह से संबंधित समस्याओं का सामना करते हैं, तो आपको ओम गण गणपतये नम: का प्रतिदिन 11 बार और मंगलवार को 21 बार पाठ करना चाहिए। आपको भगवान गणेश की मूर्ति या छवि के सामने बैठना है और उपरोक्त मंत्र का पाठ करना है। यह घर की बिक्री में आ रही बाधाओं को दूर करता है और सही सौदा आप तक लेकर आता है। यह तेजी से घर की बिक्री करवाने वाले सबसे अच्छे मंत्रों में से एक है।

चंद्रमा

हमारे ग्रह यह तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं कि कौन सी संपत्ति या घर हमारे लिए सही साबित हो सकी है। चंद्रमा ऐसे ग्रहों में से एक प्रमुख ग्रह है। यह चतुर्थ भाव में स्थित होता है। अपने घर को जल्दी बेचने के लिए वास्तु टिप्स के अनुसार हर सोमवार को शिवलिंग पर कच्चा दूध चढ़ाएं और शुद्ध जल से अभिषेक करें। यह उपाय काफी फायदेमंद साबित हो सकता है और आपकी संपत्ति को बेचने के मामले में अद्भुत तरीके से काम करता है।

आप ओम नम: शिवाय मंत्र का 21 बार जाप भी कर सकते हैं। इस मंत्र का जाप करते हुए कच्चा दूध चढ़ाएं। अधिक सकारात्मक प्रभावों के लिए शिव मंदिर में कुछ समय के लिए पूजा आदि कर सकते हैं।

राहु और केतु

इन ग्रहों को प्राकृतिक  रूप से अशुभ माना जाता है और ये चतुर्थ भाव में स्थित संपत्ति की बिक्री को प्रभावित करते हैं। हर शनिवार को हनुमान मंदिर के बाहर गरीबों और भिखारियों को भोजन और अन्य खाद्य पदार्थ चढ़ाएं।

बृहस्पति

व्यक्ति की कुंडली में चौथे भाव से जुड़ा होने पर बृहस्पति सबसे अधिक लाभकारी ग्रह बन जाता है। संपत्ति बेचने के लिए वास्तु टिप्स के अनुसार संपत्ति बेचने और खरीदने में यह स्थान भाग्यशाली है। इस ग्रह से लाभ पाने के लिए आपको शिव लिंग पर अभिषेक करना चाहिए, कच्चा दूध और जल चढ़ाना चाहिए। ओम नम: शिवाय” मंत्र का 21 बार जप करें और कच्चा दूध चढ़ाएं। 

इस प्रकार, अब हम जान गए हैं कि किसी भी प्रोपर्टी को बेचने के मामले में हम किन किन बातों से प्रभावित हो सकते हैं। यहां हमने बताया कि संपत्ति बेचने के लिए वास्तु युक्तियों के अनुसार उपाय कैसे काम करते हैं। अधिक जानकारी के लिए, हमारे ऑनलाइन वास्तु सलाहकारों से जुड़ सकते हैं और जो आपको वास्तु युक्तियों के अनुसार सही संपत्ति चुनने में मार्गदर्शन करेंगे।