कैसा होना चाहिए स्टोर रूम (Store Room) : जानें वास्तु टिप्स

वास्तु शास्त्र एक प्राचीन और प्रभावी शास्त्र है, जिसका दुनियाभर में अनुसरण किया जाता है। बीसवीं सदी में यह दुनिया भर में अपना अच्छा खासा प्रभाव जमा चुका है और अपनी अलग पहचान बना चुका है। आज के प्रतियोगिता के दौर में सभी लोग जल्द से जल्द सफलता हासिल करना चाहते हैं। मनचाही सफलता पाने के लिए वे कुछ भी करने को तैयार हैं। ऐसे में वास्तु शास्त्र उनकी सफलता के लिए नए पायदान तैयार करता है। उन्हें मंजिल तक पहुंचने का रास्ता बनाता है।

हम यहां बात करने जा रहे हैं स्टोर रूम की। बहुत से लोग इस बात को नहीं जानते हैं कि स्टोर रूम कितना महत्वपूर्ण है। बहुत कम लोग हैं जो स्टोर के लिए नियमों का पालन करते हैं। वास्तु के नियम बताते हैं कि स्टोर रूम वास्तु के नजरिए से कितना महत्वपूर्ण है। वास्तु आम तौर पर बाहरी आवरण के लिए ज्यादा माना जाता है, लेकिन घर के अंदर के हिस्से के लिए भी वास्तु बेहद महत्वपूर्ण शास्त्र है। व्यापार के नजरिए से वास्तु जरूरी हो जाता है। स्टोर रूम एक ऐसी जगह होती है, जो ग्राहकों की नजर से दूर होती है, लेकिन यह बहुत अहम होता है। इसे बनाने में वास्तु के नियमों को अनदेखा नहीं किया जा सकता है। स्टोर अगर वास्तु के मुताबिक बनाया जाए तो यह सफलता के रास्ते खोल देता है।

व्यापार में सफल होना चाहते हैं?
विशेषज्ञ वास्तु ज्योतिषी से बात करें

स्टोर रूम में आम तौर पर सारा कबाड़ रखा जाता है, लेकिन यह जरूरी है कि जो सामान स्टोर रूम में रखा गया है, वो सही तरीके से जमा कर व्यवस्थित रखा जाए। यह भी ध्यान रखा जाए कि कबाड़ बहुत अधिक मात्रा में न हो।


स्टोर रूम के लिए वास्तु टिप्स

  • स्टोर रूम से संबंधित इन बातों का ध्यान रखना जरूरी है:
  • बिल्डिंग के उत्तर पश्चिम एरिया में स्टोर रूम बनाया जा सकता है। यहां अनाज का भंडारण करने से उसकी कमी आने की संभावना नहीं रहती है।
  • दक्षिण पश्चिम के अलावा किसी भी दिशा में दो पलड़े के दरवाजे वाला प्रवेश द्वार बनाया जा सकता है।
  • इसकी ऊंचाई अन्य कमरों की तुलना में अधिक होनी चाहिए। इस कमरे की खिड़कियां पूर्व या पश्चिम में खुली होनी चाहिए।
  • स्टोर के लिए हमेशा सफेद, नीले या पीले रंग की शेड्स का चयन करें।
  • आप भगवान विष्णु का एक चित्र स्टोर रूम में लगा सकते हैं।
  • रोजमर्रा में काम आने वाले अनाज को उत्तर पश्चिम दिशा में रखा जा सकता है।
  • पूरे साल भर का अनाज दक्षिण पश्चिम दिशा में किया जाना चाहिए।
  • घी, तेल, गैस सिलेंडर को दक्षिण पूर्व दिशा में रखा जाना चाहिए।
  • वास्तु के मुताबिक कभी भी स्टोर रूम में नहीं सोना चाहिए। स्टोर रूम में वाइब्रेशन सोने वाले व्यक्ति की मानसिक स्थिति को प्रभावित करती हैं, मानसिक तनाव रहता है।

स्टोर रूम: क्या करें

  • बिल्कुल सही जगह पर स्टोर रूम बनाएं
  • सीधा प्रवेश रखा जाए
  • खिड़कियां सही दिशा व सही जगह पर बनाई जाए
  • अलमारी सही स्थान पर बनाएं
  • सही जगहों पर सामान रखा जाए
  • टंकियां सही जगह पर रखें
  • कमरे के रंगों का ध्यान रखें

स्टोर के लिए उपयुक्त वास्तु चाहते हैं?
विशेषज्ञ ज्योतिषी से बात करें।

धन हर किसी के जीवन में अहम स्थान रखता है। पूरी दुनिया धन के आस-पास ही घूम रही है। अग्नि, जल, धरती, वायु और आकाश, ये पांच तत्व होते हैं। इनके संयोजन से ही वास्तु शास्त्र काम करता है। वास्तु के सिद्धांत इन्हीं पर निर्भर हैं। अगर उनका संतुलन बिगड़ता है तो घर में नकारात्मकता बढ़ जाती है। वास्तु के सिद्धान्तों की पालना करके ही शांति, समृद्धि और सम्पन्नता पाई जा सकती है।


स्टोर रूम: ये ना करें

  • कभी भी बिस्तर स्टोर रूम में न रखें
  • स्टोर रूम में पानी एकत्रित न होने दें
  • किसी तरह का कोई खाली कंटेनर न रहने दें
  • स्टोर रूम सही आकार में बनाए, यह बुरी नजर से बचाता है

आप गोल्ड प्लेटेड वास्तु यंत्र भी घर में लगा सकते हैं। यह नकारात्मकता और बुरी नजर से बचाता है। वास्तु के मुताबिक स्टोर रूम छिपा हुआ रहता है, वह सही हो तो कल्पना से परे परिणाम भी दे सकता है। स्टोर रूम सही स्थान पर बनाया जाना बहुत जरूरी है।