तुला और मेष राशि अनुकूलता

दो लोगों के बीच रिश्ते की गहराई बहुत हद तक उनकी राशि पर भी निर्भर करती है। वैदिक ज्योतिष के जरिए इसे आसानी से समझा जा सकता है, इसलिए बहुत से लोग किसी भी वैवाहिक रिश्ते में जाने से पहले दो लोगों के बीच की अनुकूलता का अध्ययन जरूर करते हैं। वहीं प्रेम, दोस्ती से लेकर सभी तरह के रिश्तों के भविष्य को हम वैदिक ज्योतिष के माध्यम से जान सकते हैं। यहां हम तुला और मेष राशि की जोड़ी (Tula-mesh Compatibility) (libra and aries compatibility) का अध्ययन करेंगे।

तुला

23 Sep - 23 Oct

मेष राशि

21 Mar - 20 Apr
डिप्लोमेटिक
सतर्क
एट्रेक्टिव
बेलेंस्ड
फास्ट, स्मार्ट और काॅपरेटिव
एंटरपेंयोर
ब्रेव
करेजियस
एनर्जेटिक
एक्टिव

तुला – मेष प्रेम अनुकूलता

हवा और आग का रिश्ता हमेशा जुनून और उत्साह से भरा होता है। इसीलिए तुला और मेष एक साथ एक बेहतरीन लव लाइफ की उम्मीद कर सकते हैं, इनसे जुड़े कुछ शानदार तथ्य नीचे दिए गये हैं।

  • तुला – मेष प्रेम अनुकूलता (libra and aries compatibility) के अनुसार यह जोड़ी एक महान मैच हो सकती है। उनकी इंडिपेंडेंट सोच और इंटरएक्चुअल लेवल उन्हे एक आइडियल कपल बनाने का काम करता है।
  • तुला और मेष दोनों एक – दूसरे को अच्छे से समझते हैं और बहुत एक्साईटिंग रिलेशनशिप शेयर करते हैं और अपने संबंधों सदैव नया और युवा बनाए रखने के लिए हमेशा कुछ नया करने के लिए तैयार रहते हैं।
  • तुला और मेष को कभी ऊब और बोरियत का सामना नहीं करना पड़ता। वे दोनों साथ लगातार एक्सपेरिमेंट के लिए तैयार होते हैं।
  • तुला और मेष दोनों ही प्रेजेंट में जीना पसंद करते हैं, और इसलिए उनका पास्ट उन्हें ज्यादा परेशान नहीं करता है।

तुला – मेष संबंधों के फायदे

तुला और मेष के बीच का रिश्ता एक स्ट्राॅन्ग इमोशन अटेचमेंट पर आधारित होगा। मेष किसी भी निर्णय से पहले सोचता नहीं जबकि तुला निर्णय लेने से पहले उसके दोनों पक्षों को बेलेंस करने का काम करते हैं। आइए तुला और मेष संबंधों के कुछ और फायदे जानें।

  • मेष का नेचर और एनर्जी का लेवल किसी नवजात बच्चे की तरह होता है, वे अपने उत्साह और एनर्जी के माध्यम से तुला को एट्रेक्ट करने का काम करते हैं।
  • जब सेल्फ काॅन्फिडेंस से भरे मेष का गहरी समझ और बुद्धि वाले तुला के साथ मेल होता है, तो वे दोनों एक आइडियल कपल की तरह काम करते हैं।
  • तुला और मेष राशि की जोड़ी का रिश्ता कभी बोरिंग नहीं होता, वे हमेशा एडवेंचर की तलाश में होते हैं। वे दोनों हमेशा रिश्ते को जीवंत बनाए रखने की कोशिश करते हैं।
  • तुला और मेष राशि की जोड़ी का रिश्ता लंबे समय तक जारी रहता है, इसके बावजूद वे दोनों एक दूसरे के साथ सदैव आनंद लेते हैं।

तुला – मेष संबंधों के नुकसान

जिस तरह सिक्के के दो पहलू होते है, वैसे ही संबंधों के भी दो पहलू होते है, एक अनुकूल और दूसरा प्रतिकूल। तुला और मेष राशि की जोड़ी पर भी यह लागू होता है, इसलिए उनके संबंधों की कुछ विपरीत परिस्थितियों के बारे में नीचे बताया गया है।

  • तुला और मेष दोनों ही बेहद ग्लैमरस लाइफ स्टाइल शेयर करते हैं, इससे उनके खर्च में असाधारण बढ़ोतरी देखने को मिलती है, फायनेंशियल अनसर्टेनिटी के कारण इन्हें फायनेंसियल प्राॅब्लम्स का सामना करना पड़ सकता है।
  • मेष को अपने नेचर में कुछ चेंजेस करने की जरूरत होती है और अपने साथी पर अधिक ट्रस्ट करना होगा, क्योंकि तुला विवादों से बचने के लिए चीजों को अपने मन में दबाने का काम करते हैं। इसके नतीजे तुला मेष संबंधों के लिए बेहद खतरनाक हो सकते हैं।
  • तुला को मजबूती और पेशेंस के साथ अपने डिसिजन लेने चाहिए, क्योंकि उनकी चीजों को टालने और अनिर्णय की आदत मेष को परेशान कर सकती है।
  • इस रिश्ते को सुचारू रूप से चलाने के लिए मेष को अपने डोमिनेटिंग नेचर में बदलाव करने होंगे, वहीं तुला को अपने डिसिजन पर टिके रहना सीखना होगा।

तुला – मेष वैवाहिक अनुकूलता

तुला और मेष के बीच वैवाहिक अनुकूलता (libra and aries compatibility) बहुत रोमांटिक और दिलचस्प हो सकती है। हालांकि अपने अपोजिट नेचर के कारण उन्हे कई बार परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन फिर भी उनकी मैरिड लाइफ में कुछ पाॅजिटिव पाॅइंट देखने को मिलते हैं।

  • तुला और मेष दो अपोजिट साइन हैं, लेकिन उनके बीच कुछ क्षेत्रों में समानताएं भी देखने को मिलती है, यदि वे दोनों एक दूसरे को कुछ समय देने का प्रयास करें तो उनके रिश्ते बेहतर हो सकते हैं।
  • तुला और मेष एक – दूसरे के प्रति आकर्षित होते हैं और तुरंत प्यार में पड़ जाते हैं। यह सब अचानक होता है, और एक बार साथ आने के बाद और कुछ भी ऐसा नहीं है जो उन्हें अलग कर सकें।
  • हालांकि, तुला और मेष को अपने बीच बेहतर कम्यूनिकेशन स्थापित करने की जरूरत है। इससे उन्हे अपने बीच अधिक बेहतर तालमेल बैठाने में मदद मिलेगी।
  • तुला और मेष दोनों ही बहुत रोमांटिक हैं और रोजमर्रा की जिंदगी में रोमांस पसंद करते हैं। यही बात उनके वैवाहिक संबंधों को लाॅजिंबिलिटी प्रदान करेगी।

तुला – मेष सेक्सुअल अनुकूलता

प्रेम संबंधों को अगले स्तर पर पहुंचाने की बात हो या विवाह के लिए जीवन साथी का चयन दोनों ही सूरत में सेक्सुअल अनुकूलता का इंपोर्टेंट रोल होता है। आइए जानते हैं तुला और मेष के बीच सेक्सुअल अनुकूलता (libra and aries compatibility) के बारे में कुछ अधिक।

  • तुला और मेष दोनों ही सेक्स संबंधों में बेहद अनुकूल हो सकते हैं, क्योंकि मेष बेहद इंटिमेट और रोमांटिक होते हैं।
  • सेक्सुअल रिलेशनशिप के दौरान मेष रिश्ते के उत्साह को बनाए रखने का काम करता है, वहीं तुला रिश्ते को आगे बढ़ाने का कार्य करती है।
  • तुला को शारीरिक संबंधों के दौरान एक्साईटमेंट और फोरप्ले पसंद होता है। उनके इमोशन और फिजिकल एट्रेक्शन उनकी सेक्स लाइफ को सफल बनाने का काम करते हैं।
  • मेष का सेल्फकाॅन्फिडेंस रिजर्व तुला के सेक्सुअल पक्ष को बाहर लाने का काम करता है।

शुक्र तुला राशि को एट्रेक्टिव बनाने का काम करते हैं, जबकि मेष के स्वामी मंगल उसे सहज और उत्साही बनाते हैं। शुक्र का संबंध रोमांस की सुंदरता से है। मंगल ग्रह का संबंध रोमांस के जुनून से है। इन ग्रहों द्वारा शासित होना तुला और मेष राशि की जोड़ी के संबंध को बहुत खास बनाता है।

Your Zodiac Sign

Your Partner's Zodiac Sign