कन्या और वृषभ राशि अनुकूलता

अगर रिलेशनशिप की शुरूआत से पहले ही हमें यह पता चल जाए कि जिससे साथ हम रिलेशनशिप में बंधने जा रहे हैं, उसके साथ हमारा रिश्ता कैसा रहेगा, तो कितना अच्छा हो। वैसे यह हकीकत में बदल सकता है और आपके इस सवाल का जवाब एस्ट्रोलॉजी में है। एस्ट्रोलॉजी के जरिए आप अपनी लव और मैरिड लाइफ के फ्यूचर के बारे में जान सकते हैं। आप जान सकते हैं की लाइफ पार्टनर के साथ लव और सेक्सुअल रिलेशनशिप में कैसी कंपेटेबिलिटी रहेगी। दो लोगों की राशियों की अनुकूलता के आधार पर ही इसका आकलन किया जा सकता है।

कन्या

24 Aug - 22 Sep

वृषभ राशि

21 Apr - 21 May
व्यवस्थित
अनालिटिकल
अर्थपूर्ण
शांत और सीरियस
प्रैक्टिकल
आर्टिस्टिक
स्टेबल
फेथफुल
उदार, इंसानियत, लॉयल और पक्षपात पूर्ण

कन्या – वृषभ लव कंपेटेबिलिटी

कन्या और वृषभ दोनों ही स्ट्रॉन्ग हैं और उनकी कंपेटेबिलिटी मुख्य रूप से अच्छे संबंध बनाने और बनाए रखने की उनकी इच्छा पर डिपेंड करती है। वे रिलेशनशिप में जल्दबाजी नहीं करते हैं लेकिन लाइफ में कई चीजों पर विचार करने के लिए समय लेते हैं और उसके बाद ही डिसीजन लेते हैं। वे पहली नजर के प्यार पर विश्वास नहीं करते और स्टेबल रिलेशनशिप बनाने के लिए उन्हे कुछ समय की आवश्यकता हो सकती है।

  • बातचीत के दौरान कन्या और वृषभ ओपन होने के साथ ही एक – दूसरे को अच्छी तरह से समझ सकते हैं। उनकी विश्वसनीयता उनके लाभ के लिए काम कर सकती है और बॉन्ड को मजबूत बना सकती है।
  • कन्या और वृषभ जानते हैं कि रिलेशनशिप में आने वाली समस्याओं को कैसे सॉल्व किया जाए। इस प्रकार कन्या – वृषभ की अनुकूलता उच्च स्तर की हो सकती है और इससे उन्हें एक स्टेबल जोड़ी बनाने में मदद मिल सकती है।
  • वृषभ जातक वाले कन्या की सुंदरता और करिश्माई व्यक्तित्व पर मंत्रमुग्ध है। कन्या वृषभ के प्रति खिंचाव महसूस करती है। हालांकि एक सफल कम्युनिकेशन के बिना कोई रिश्ता नहीं पनप सकता है। कन्या के लॉर्ड बुध हैं जो उन्हें अपने वृषभ पार्टनर से प्यार का इजहार करने में इम्पोर्टेंट रोल प्ले करते हैं।
  • कन्या और वृषभ के मन में एक-दूसरे के प्रति भक्ति और निष्ठा का भाव है जो उन्हें अनुकूलता के एक आदर्श लेवल पर ले जाने का काम करेगा।

आपके होने वाले जीवनसाथी के साथ कैसा बीतेगा जीवन अभी अपनी कुंडली का मिलान कीजिए, फ्री…

कन्या – वृषभ संबंधों के फायदे

कई चीजें एक समान होने के कारण कन्या और वृषभ जातकों की कंपेटेबिलिटी टॉप पर नजर आती है। दोनों लाइफ की रियलिटी को एक्सेप्ट करना पसंद करते हैं। सामान्यतः दोनों ही लापरवाही, अपव्यय और असंगति से दूर रहना चाहते हैं। उनका रिलेशनशिप निष्ठा, समर्पण और ईमानदारी के कारण बेहद अनुकूल प्रतीत होगा। हालांकि कभी-कभी दोनों के बीच मीठी नोकझोंक हो सकती है।

  • कन्या और वृषभ जातक स्वाभाविक रूप से एक दूसरे के लिए बेहद फेवरेबल नजर आते हैं। कन्या और वृषभ डेली लाइफ में आसान, प्रैक्टिकल और शांत नजर आते हैं।
  • कन्या और वृषभ की रिलेशनशिप गहरी ईमानदारी होती है, जिससे इनकी रिलेशनशिप लॉन्ग लास्टिंग होती है।
  • कन्या और वृषभ की जोड़ी लग्जरी और नेचर के हिसाब से ये थोड़े भौतिकवादी होते हैं। यदि वे साथ में रहते हैं तो अपनी लाइफ को सुंदर और खुशहाल बना सकते हैं।
  • प्रैक्टिकल, इमोशनल और सेंसिबल एस्पेक्टेंस उनकी रिलेशनशिप में प्रेम और करुणा भरने का कार्य करते हैं।
  • वृषभ की स्टेबलिटी रिश्ते को सेफ्टी और बैलेंस प्रदान करता है, वहीं कन्या का सॉफ्ट नेचर रिलेशनशिप को स्ट्रॉन्ग करने का कार्य करेगा।

अभी अपना दैनिक राशिफल देखिए एकदम फ्री… हमारे ज्योतिषीय विशेषज्ञों से बात करें। पहला काल फ्री

कन्या – वृषभ संबंधों के नुकसान

कन्या और वृषभ की रिलेशनशिप में कुछ प्रतिकूलताएं उनके उत्साह में कमी का कारण बन सकती हैं। दोनों ही राशियां पृथ्वी से संबंध रखती हैं। गुजरते समय के साथ ही डेली रुटीन के कार्यों से उनके सांसारिक जीवन में एक नीरसता पैदा हो सकती है, जिससे बाहर निकलने में उन्हें मुश्किल हो सकती है।

  • कई बार वृषभ राशि जातक कन्या के लिए अधिक सेंसेटिव हो सकते हैं। वृषभ का जिद्दी स्वभाव कन्या को परेशान कर सकता है। इससे उनके रिश्ते में कुछ चैलेंज पैदा हो सकती हैं।
  • कोई भी परफेक्टली स्किल्ड नहीं होता। ह्यूमन नेचर में हमेशा से ही मिस्टेक्स और भूल की गुंजाइश रहती है। ऐसे में कन्या जातकों को यह बात समझते हुए वृषभ को थोड़ा फ्रीडम देना होगा।
  • कन्या और वृषभ के विपरीत दृष्टिकोण उनके बीच डिफरेंस बढ़ा सकते हैं। ये मतभेद मनभेद का रूप ना धारण कर लें, इस बात का विशेष ध्यान रखें।
  • वृषभ के तर्क अक्सर हास्य से भरे होते हैं, जबकि कन्या जातकों के तर्क आलोचनात्मक और सरकास्टिक होते हैं।
  • कन्या राशि के जातक खुद को कंपलीट मानते हैं। हालांकि उन्हें अपनी पिछली गलतियों से सीखने की जरूरत है। वहीं वृषभ जातकों को अपनी पेशेंस और अंडरस्टैंडिंग को और अधिक डवलप करने पर जोर देना चाहिए।

वैवाहिक जीवन स्थिर रहेगा, या होगी उथल-पुथल अभी अपनी अनुकूलता जांचे, एकदम फ्री…

कन्या – वृषभ मैरिज कंपेटेबिलिटी

कन्या और वृषभ की मैरिड लाइफ पृथ्वी और पृथ्वी का विश्वसनीय संबंध हो सकता है। दोनों सेफ्टी और फ्यूचर प्लान बनाने में समय लगा सकते हैं। दोनों रोमांस और खुद की जरूरतों की अपेक्षा फैमिली और बच्चों की रेसपॉन्सिबिलिटी उठाना अधिक पसंद करते हैं। उनकी मैरिड लाइफ ज्यादा बैलेंस्ड नजर आती है।

  • कन्या और वृषभ दोनों पृथ्वी तत्व से आते हैं, इसलिए दोनों के बीच स्थिरता बनी रह सकती है।
  • स्ट्रॉन्ग फैमिली वैल्यू, कॉमन गोल और एटीट्यूड उन्हें एक परफेक्ट कपल बनाते हैं।
  • कन्या और वृषभ के रिश्ते लंबे और स्टेबल होते हैं। आप उन्हें जब भी देखेंगे वे बैलेंस्ड और हैप्पी नजर आते हैं।
  • कन्या और वृषभ दोनों ही डाउन टु अर्थ, प्रैक्टिकल और स्टेबल होते हैं, उनके यही साझा गुण उन्हें साथ लाने और आनंदमय जीवन जीने की प्रेरणा देते हैं।
  • हालांकि इनकी रिलेशनशिप में भी कुछ चीजों के खराब होने पर वे एक दूसरे के कॉम्पिटिटर बन सकते हैं, वे एक दूसरे के साथ बुरा बर्ताव कर सकते हैं और उनका रिश्ता युद्ध के मैदान में तब्दील हो सकता है।
  • कन्या और वृषभ दोनों ही के बीच एक पीसफुल और बैलेंस्ड पार्टनरशिप होती है और वे दोनों इसे पसंद भी करते हैं। रिश्ते में आने वाली छोटी – मोटी परेशानियों को वे दोनों इग्नोर करते हुए आगे बढ़ने का प्रयास करते हैं।

फ्री जन्मपत्री विश्लेषण के माध्यम से जानिए कैसा होगा आपका आने वाला समय…

कन्या – वृषभ सेक्सुअल कंपेटेबिलिटी

क्या आप यह जानने को उत्सुक हैं कि रोमांस और लव मेकिंग कन्या और वृषभ के लिए क्या है? एस्ट्रोलॉजी में इसका जवाब है, आइए जानते हैं।

  • कन्या जातक वृषभ को कुछ स्पाइसी फीलिंग वाले अनुभवों से भरी एक काल्पनिक सवारी करवा सकती है। यह एक बेहतर कॉम्बिनेशन है, जहां उदार कन्या पूरी तरह से कामुक वृषभ की बाहों में सेफ और कंफर्ट फील करते हैं।
  • वृषभ इरोटिक और इमोशनल है, जबकि कन्या प्रैक्टिकल और ब्रेव है। दोनों एक दूसरे के पूरक हैं और इंटिमेट मोमेंट्स में एक साथ एक बेहतरीन रिलेशनशिप शेयर करते हैं।
  • कन्या और वृषभ की सेक्स डिजायर्स उनके पार्टनर द्वारा पूरी की जाती है, क्योंकि उन्हें पता है कि अपने साथी को कैसे खुश करना और उन्हें उनके परम आनंद तक पहुंचाना है।
  • एक लवर के तौर पर कन्या और वृषभ की जोड़ी एक प्रेमी के रूप में बेहद रोमांटिक और इंटिमेट हो सकती है। वे उत्तम दर्जे के प्रेमी होते हैं और लव अफेयर्स के दौरान दोनों ही रोमांटिक इनवायरमेंट तैयार करने का प्रयास करते हैं।
  • कन्या राशि के स्वामी मर्करी हैं, इसलिए कभी-कभी वे तनावग्रस्त या शर्मीले हो सकते हैं, वहीं वृषभ के स्वामी वीनस हैं, जो उसे सुंदर, अट्रैक्टिव और उत्तेजक बनाने का कार्य करते हैं।

वृषभ और कन्या का रिलेशन लाइफ के स्ट्रॉन्ग रिलेशनशिप में से एक हो सकता है। दोनों लाइफ में करुणा और सद्भाव की तलाश करते हैं। दोनों अर्थ एलिमेंट का हिस्सा हैं और उन्हें एक-दूसरे को समझने में देर नहीं लगती। कन्या और वृषभ के बीच कम्युनिकेशन का एक मजबूत धागा मौजूद हो सकता है, और यह जोड़े के बीच कई मतभेदों को सॉल्व में मदद कर सकता है।

2022 फ्री वार्षिक रिपोर्ट आपके भविष्य को लेकर क्या कहती है… हमारे ज्योतिषीय विशेषज्ञों से बात करें। पहला काल फ्री

Your Zodiac Sign

Your Partner's Zodiac Sign