सिंह राशि के डेक्कन(Leo Decan) का क्या है महत्व


सिंह डेक्कन मुख्य बातें

राशियों में डेक्कन, दस दिनों का अंतराल को कहा जाता है। डेक्कन आपकी राशि को दस दिनों के अंतराल के हिसाब से आपके भविष्य के बारे में जानकारी देता हैं। यदि आप सिंह राशि से हैं, तो हम आपका कुछ मार्गदर्शन करेंगे। हम आपको बताएंगे कि कैसे डेक्कन आपके भविष्य और आपके व्यक्तित्व के बारे में दर्शाता है। सबसे पहले हम आपको सिंह राशि के तीन डेक्कन के बारे में संक्षिप्त रूप से बता देते हैं।

  • सिंह राशि का पहला डेक्कन 23 जुलाई से 1 अगस्त के बीच है। इस दौरान सिंह राशि पर सूर्य का शासन है। यह इस दौरान जन्मे लोगों को आशा और दृढ़ संकल्प के साथ शुभकामनाएं है।
  • सिंह राशि का दूसरा डेक्कन 2 अगस्त से 12 अगस्त के बीच है। इस दौरान सिंह राशि पर बृहस्पति का शासन है। बृहस्पति इस दौरान जन्मे लोगों को स्वतंत्रता और ज्ञान के साथ श्रेष्ठ बनाता है।
  • सिंह राशि का तीसरा डेक्कन 13 अगस्त से 22 अगस्त के बीच है। इस दौरान मंगल का शासन काल है। मंगल इस दौरान जन्मे लोगों को सुंदरता, आकर्षण के साथ सर्वश्रेष्ठ बनने में मदद करता है।

सिंह डेक्कन क्या है ?

जैसा कि उल्लेख किया गया है, राशि में काल को तीन खंडों में विभाजित करता है। चूंकि एक राशि चिन्ह 30-अंशों से बना होता है, इसलिए प्रत्येक का भाग तीन में विभाजित होने के बाद 10-डिग्री का बना होगा।

23 जुलाई से 22 अगस्त के बीच जन्म लेने वाले लोग सिंह राशि के जातक होते हैं। सिंह राशि के तीन डेक्कन है, जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं, जिनमें पहला 23 जुलाई से 01 अगस्त, दूसरा 2 अगस्त से 12 अगस्त और तीसरा 13 अगस्त और 22 अगस्त तक है। सिंह डेक्कन के साथ हमें ज्योतिषीय तत्वों और उनके विश्लेषण के बारे में आगे भी आपको बताएंगे। इसमें सिंह राशि के जातकों के बारे में और भी समझने में आपको मदद मिलेगी।

यदि आप सिंह राशि के जातक हैं, तो आपको ये जरूर समझने कि कोशिश करनी चाहिए। यह आपको लिए महत्वपूर्ण है, तो चलिए शुरुआत करते हैं…


सिंह राशि में पहला डेक्कन: जुलाई 23 से 1 अगस्त

23 जुलाई से 1 अगस्त के बीच जन्मे लोग सिंह राशि के पहले डेक्कन के लोग होते हैं। यह आत्मविश्वास और स्वभाव से बहिर्मुखी, सामाजिक और लोगों के बीच अच्छी पकड़ रखने वाले लोग होते हैं। हालांकि यह मुहफट हो सकते हैं, लेकिन इसमें बुराई भी नहीं है, जो भी बात हो वह पीठ पीछे कहने से अच्छा है, मुंह पर कह देना। कुछ लोग फर्स्ट डेक्कन वाले लोगों को बहिर्मुखी क्षमताओं के कारण आत्म-प्रेमी और अपनी धुन में रहने वाले भी मानते हैं। इन सभी गुणों के बावजूद कभी भी उनके अंदर घमंड की स्थिति निर्मित नहीं होती है। सिंह राशि फर्स्ट डेक्कन के लोग बाकी लोगों से बेहतर होते हैं। वह हमेशा लोगों के सामने धैर्य और निष्ठा का प्रदर्शन करते हैं, जो लोगों के सामने उनकी छवि को सुधारता है।

फर्स्ट डेक्कन वाले अविश्वसनीय रूप से प्यार करने वाले और देखभाल करने वाले लोग हैं। यदि वे आपको मानते हैं और आपका सम्मान करते हैं, तो वे आपको दिखाने में संकोच नहीं करेंगे। वह आपको अपने प्रेम दिखाने में किसी भी तरह का संकोच करते नजर नहीं आएंगे, वह हमेशा अपने प्यार को आपके सामने प्रदर्शित करेंगे। यह प्यार उनका सच्चा प्यार होता है, न कि दिखावा। वह कल्पनाशील और रचनात्मक होते हैं। हालांकि वह कमजोर दिखना पसंद नहीं करते हैं, और एक शेर की तरह अहंकार रखते हैं। कभी उन्हें किसी भी चीज की जरूरत पड़ती है, तो वह थोड़ा शर्माते जरूर हैं, लेकिन वह अपने आत्मसम्मान से भी समझौता नहीं करते हैं।


सूर्य सिंह राशि के पहले डेक्कन को कैसे प्रभावित करता है

सिंह राशि के पहले डेक्कन पर सूर्य शासन करता है। सूर्य की तरह ही सिंह राशि के जातक राजसी, गर्मजोशी से भरे, कभी न भूलने वाले और शानदार होते हैं। सूर्य इन्हें जन्मजात ऊर्जावान बनाता है, यही वजह है कि वह अपना जीवन निडर होकर शेर की तरह जीते हैं। सिंह राशि के पहले डेक्कन वाले लोगों में उत्साह, दृढ़ संकल्प और जुनून का एक आदर्श संयोजन होता है। इन सभी गुणों के कारण वह अपने कार्य में सफलता हासिल करते हैं। वह हर कार्य में सफल होते हैं, जिसे वह शुरू करते हैं।

उनको जीवन में कई चुनौतियों का भी सामना करना पड़ सकता है, लेकिन पहले डेक्कन से मिली शक्तियां उन्हें महत्वाकांक्षी और कड़ी मेहनत करने का हौसला प्रदान करेगी। वह रचनात्मक और कल्पनाशील भी हैं, इससे भी उन्हें काफी मदद मिलती है। इन लोगों की एक खासियत यह भी है कि यह अपने कार्य को पूर्ण करने के बाद रूकेंगे नहीं, यह उस कार्य को और आगे बढ़ाएंगे। वह तब भी नहीं रुकेंगे, जब वे, जो हासिल करना चाहते हैं, वह पा लिया है। वह अपने और सपने देखेंगे और उनको पूरा करने के लिए आगे बढ़ेंगे।

जन्म कुंडली आपकी शक्तियों और कमजोरियों के बारे में बहुत कुछ बताती है और यह भी संकेत देती है आप जिन सपनों को पूरा करना चाहते हैं, वह पूरे होंगे या फिर नहीं। आपको जीवन में चंद्रमा का प्रभाव भी बहुत कुछ बदल देता है। क्या आपने इसके बारे में कभी कुछ जानने की कोशिश की, अगर नहीं तो आइए जानते हैं कि यह कैसे आपको जीवन को प्रभावित करते हैं।


सिंह राशि दूसरा डेक्कन 2 अगस्त से 12 अगस्त

सिंह राशि के दूसरे डेक्कन में जन्मे लोगों का जन्म मंच पर अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए होता है। यह हमेशा पार्टियों और समारोहों में आकर्षण का केंद्र बने रहते हैं। स्पॉटलाइट उन्हें बहुत प्यारी लगती है। जब लोग इनके लिए तालियां बजाते हैं, तो इनको बहुत खुशि होती है, साथ ही उनको लगता है कि उनका दिन बन गया है। वह सपने देखने में विश्वास करते हैं, और हमेशा प्रतिकूल परिस्थियों में भी सकारात्मक दृष्टिकोण रखने की कोशिश करते हैं। उनका यह गुण लोगों को उनके करीब लाने में काफी मदद करता है। सिंह राशि के दूसरे डेक्कन में होने के कारण उनको काफी समर्थन भी मिलता और वह हमेशा सकारात्मक रहते हैं।

वह हमेशा किसी भी कार्य को लेकर एक दृष्टिकोण रखते हैं, कि यह हां हमें यह कर सकते हैं। वह प्रोत्साहन के रूप में सिर्फ लोगों की मुस्कान देखना चाहते हैं। वे आमतौर पर अपने विचारों को बुद्धिमानी से व्यक्त करने में सक्षम होते हैं, साथ ही उनके साथ रहने वाले लोगों पर वह काफी गहरा प्रभाव डालते हैं। सिंह राशि के सेकंड डेक्कन के जातकों के लिए सबसे सटीक शब्द हैं, ड्रीमर्स। वह हमेशा सपनों की दुनिया में खोए रहते हैं। वह हमेशा बृहस्पति दूसरे डेक्कन को कैसे प्रभावित करता हैसपने देखते रहते हैं, और अपने सपनों को पूरा करने का पूरा प्रयास करते हैं। यह लोग यात्रा करना बहुत पसंद करते हैं, विशेष रूप से विदेशी और रोमांटिक स्थान इन्हें काफी लुभाते हैं। यह अपनी राशि के अनुरूप साहसी और निडर भी होते हैं।


बृहस्पति दूसरे डेक्कन को कैसे प्रभावित करता है

बृहस्पति ग्रह सिंह राशि के दूसरे डेक्कन को सुचारू बनाता है। यह इस जातक के लोगों को उत्साही और मजेदार भी बनाता है। बृहस्पति का आशीर्वाद क्षितिज का विस्तार करने और जीवन में महत्वाकांक्षी होने के लिए मार्गदर्शन करता है। बृहस्पति ज्ञान का ग्रह है, और इसलिए इस राशि के जातक आजीवन सीखने चाहते हैं। वह हमेशा किसी भी परिस्थिति से भागते नहीं है, वह कठिन समय में भी डटकर मुकाबला करते हैं। साथ ही उन कठिनाइयों और चुनौतियों का सामना करने में कामयाब भी होते हैं।

यदि उन्हें कोई अवसर प्रदान नहीं किया जाता है, तो वे अपने लिए एक लड़ना भी जानते हैं। उनकी ओर आकर्षित होने वाले लोग उनके प्रति वफादार भी होते हैं। वह एक शेर की तरह जीवन जीते हैं। वह अपने से कमजोर लोगों की रक्षा करने में विश्वास करते हैं। दूसरी ओर, वे हास्य और मनोरंजन की भावना से भरे हुए हैं। यदि आपका दिन खराब चल रहा है, तो सिंह राशि के जातक आपको खुश कर देंगे। वह काफी आकर्षक और मनोरंजक होते हैं।


सिंह राशि थर्ड डेक्कन - 13 जून से 22 जून

सिंह राशि के सेकेंड डेक्कन के जातकों की तरह ही थर्ड डेक्कन के लोग भी महत्वाकांक्षी होते हैं। जो कई सारे सपने देखते हैं और उन्हें पूरा करने के लिए आगे की ओर बढ़ते हैं। जब भी वह अपने सपनों के बारे में बात करते हैं, तो वह उन्हें पूरा करने का जोश भी दिखाते हैं। हालांकि वह काफी जिद्दी हो सकते हैं और दूसरों की सलाह को नजरअंदाज कर सकते हैं। साथ ही खुद ही गलती होने पर उन्हें स्वीकार करना मुश्किल लगता है।

सिंह राशि का थर्ड डेक्कन ओवरस्पीड की तरह हो सकता है। वह आमतौर पर आवश्यकता से अधिक चीजें खरीदना पसंद करते हैं। सिंह राशि के थर्ड डेक्कन के जातक एकदम सच्चे और ईमानदार होते है। कभी कभी उनकी गुणवत्ता और काबिलियत उन्हें अनावश्यक तर्कों की ओर ले जाती है। वह कठोर आलोचक भी हो सकते हैं। सिंह राशि के तीसरे डेक्कन के लोग दूसरों की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। वे ज्यादातर समय कोमल और दयालु होते हैं। हालांकि गुस्सा आने पर वह ज्वालामुखी की तरह फटते भी हैं।


कैसे प्रभावित करता है मंगल ग्रह तीसरे डेक्कन को

इस राशि के जातकों के अंदर जो आग होते है, वह मंगल से ही मिलती है। मंगल उन्हें डेयरडेविल बनाता है। जब उनके सपनों को पूरा करने की बात आती है, तो वह किसी भी बात का ध्यान नहीं रखते हैं। हो सकता है कि वह अपने सपनों के पीछे इस कदर भी भागे की शैतानी हो जाए। वह किसी भी कार्य में जल्दी ऊब जाते हैं, यह भी सच्चाई है। वह अपने अंदर सकारात्मक बदलाव के लिए प्रयास करते हैं, और लंबे समय तक एक ही स्थान पर रहना पसंद नहीं करते हैं। बता दें कि सिंह राशि के थर्ड डेक्कन में बहुत कम लोग आपको आलसी प्रवृत्ति के मिलेंगे।

वो हमेशा अपने लोगों से अपेक्षा करते हैं कि कठोर निर्णय लेने में वह उनकी मदद करें। उनके पास दुनिया की सारी ताकत और साहस है, लेकिन धैर्य नहीं है। वह परिणाम सोचें बगैर अपने कार्य को जल्दबाजी में करना चाहते हैं। उन्हें गुस्सैल व्यवहार में परिवर्तन लाना चाहिए और कार्यों में सतर्कता और सावधान रहना उचित होगा।

अगर आप सिंह राशि के जातकों के बारे में जानने के इच्छुक हैं, और आपने हमारा यह लेख पड़ा है, तो निश्चित ही आपको इसे पढ़कर गर्व महसूस हो रहा होगा। खासकर अगर आप खुद सिंह राशि से ताल्लुक रखते हैं। अब आप अपने व्यवहार में अपनी राशि के अनुरूप परिवर्तन लाइए और मजे से जिंदगी जीएं।

किसी भी समस्या के हल के लिए हमारे ज्योतिषी से बात करें