भेड़ और चूहा राशि (Sheep and Rat) की संगतता कैसी होती है?

चीनी ज्योतिष 12 साल के एक चक्र पर आधारित होती है। इस चक्र में हर एक साल को एक पशु के प्रतीक के तौर पर प्रदर्शित किया जाता है। ऐसे में बारह साल में कुल बारह पशु होते हैं। ये बारह पशु चीनी ज्योतिष की नींव की तरह होते हैं। चीनी ज्योतिष में ये जानवर हर 12 साल बाद दोहराए जाते हैं। वहीं दूसरी तरफ वर्षों के अलावा चीनी ज्योतिष में महीनों, दिनों और घंटों सहित अन्य अनुक्रम भी होते हैं, ये सभी भी 12 पशुओं के प्रतीक के तौर पर तय किए जाते हैं, पहचाने जाते हैं।

इस चीनी ज्योतिष के प्रमुख भाग में यिन-यांग का संतुलन सिद्धांत, वू सिंग की शिक्षाएं, पांच तत्व  धातु, लकड़ी, अग्नि, पृथ्वी और वायु शामिल  होते हैं। ये तत्व उनके व्यक्तित्व लक्षणों और अनुकूलता कारक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

इस लेख में हम चीनी राशि भेड़ और चूहे के बीच संगतता देखेंगे। जानेंगे कि उनके बीच तालमेल किस तरह का होता है। हम आपको बता देते हैं कि भेड़ पृथ्वी तत्व से जुड़ी राशि है तो वहीं चूहा पानी तत्व से जुड़ी राशि है। क्या आप अपना परफेक्ट मैच जानना चाहते हैं? क्या इन दोनों राशियों का एक मैच फलदायी और बेहतर साबित हो सकता है। इस लेख में हम आपको अंत तक वो सभी जानकारी बताएंगे जो चूहा और भेड़ राशि के तालमेल के बाद में सब स्पष्ट कर देगा।


चीनी राशि भेड़ और चूहा: व्यक्तित्व लक्षण

इन दोनों राशियों के बीच संबंध इतना सही नहीं है। इनका तालमेल बिल्कुल सही बैठेगा यह नहीं कहा जा सकता है। चूहे बहुत मिलनसार होते हैं और अपने दोस्तों और भाई-बहनों के साथ घूमना पसंद करते हैं। उन्हें अपने दोस्तों के साथ नाइट आउट और डिनर पार्टियों में जाना अच्छा लगता है। दूसरी ओर भेड़ राशि के जातक बहुत अंतर्मुखी होती हैं। वे बहुत भावुक होते हैं और घर के अंदर रहना पसंद करते हैं।


नर भेड़: व्यक्तित्व अवलोकन

भेड़ हमेशा एकजुटता, सद्भाव और शांति का प्रतिनिधित्व करती है। नर भेड़ ज्यादातर विनम्र, मृदुभाषी, शर्मीले, कल्पनाशील, दृढ़ निश्चय और अच्छी पसंद वाले होते हैं। वे आमतौर पर चुप रहते हैं क्योंकि उनका मानना है कि आपका काम आपके शब्दों से ज्यादा बोलता है। बोलने से कहीं बेहतर होता है काम करके दिखाना, आपका काम ही आपकी पहचान होता है। हां यह जरूर है कि इसके साथ ही कई बार वे कभी-कभी निराशावादी, अवास्तविक बातें करने लगते हैं। वे व्यवहार में धीमे होते हैं। उनका बर्ताव थोड़ा धीमा और नम्र हो जाता है।

चीनी ज्योतिष की यह राशि पृथ्वी तत्व से संबंधित होती हैं। उनका रवैया विवेकपूर्ण होता है। वे अपने परिवार से भावनात्मक रूप से बहुत जुड़े होते हैं। दरअसल बात यह है कि पैसा कमाने के लिए कठोर परिश्रम करते हैं, इतनी कड़ी मेहनत के बावजूद वे पहले अपने साथी के लिए सोचते हैं और फिर अपने बारे में सोचते हैं। उनके लिए उनका पार्टनर हमेशा उनकी प्राथमिकता रहेगा।

वे एक रिश्ते में अपने साथी पर निर्भर करते हैं। ये लोग आमतौर पर काफी इमोशनल होते हैं। वे बहुत असुरक्षित होते हैं और अपने साथी की मदद के बिना वास्तव में एक खुशहाल जीवन नहीं जी सकते। वे अकेले खुश नहीं रह सकते हैं। वे अपनी भावनाओं को व्यक्त करने में बहुत स्पष्ट हैं और अपने साथी के प्रति आसक्त रहते हैं। वे अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए अपने साथी को उपहार के रूप में अलग अलग तरह की चीजें देना पसंद करते हैं। इसके अलावा वे रिश्ते में बहुत ही स्वामित्व वाले होते हैं, ये संबंधों पर पूरा नियंत्रण रखना चाहते हैं, फिर भी वफादार हैं।

जब कॅरियर की बात आती है, तो वे कड़ी मेहनत करने या एक गधे के काम करने के बजाय स्मार्ट काम में विश्वास करते हैं। वे बहुत रचनात्मक और विचारशील होते हैं। वे आमतौर पर अपने से सीनियर लोगों को अपने रचनात्मक विचारों से प्रभावित करते हैं। ये अपना काम करते हुए बहुत शांत रहते हैं, ये न तो गुस्सा होता है न ही आवेश में आते हैं। उनके पास अपनी समय सीमा पर टिके रहने की क्षमता है।

यह समय है जीवन के सही रास्ते पर चलने का, एक रुपए प्रति मिनट में  विशेषज्ञ ज्योतिषियों से परामर्श करें


चूहा राशि की महिला: व्यक्तित्व अवलोकन

चूहा ज्ञान का प्रतिनिधित्व करता है। मादा चूहे ज्यादातर बुद्धिमान, आकर्षक, व्यावहारिक, महत्वाकांक्षी, आर्थिक और सामाजिक गतिविधियों में अच्छी होती हैं। इसके साथ ही वे डरपोक, जिद्दी, चिड़चिड़े, लालची, कुटिल, सत्ता के लिए बहुत उत्सुक, गपशप करने वाले और प्यार करने वाले होते हैं। वे अपने परिवार और दोस्तों के साथ घूमना पसंद करते हैं और उनके बहुत करीब होते हैं। वे लोगों को पास पार्टियों में शिरकत करने के लिए जाते हैं।

चीनी ज्योतिष में यह राशि जल तत्व से संबंधित होती है। वो काफी इमोशनल होते हैं इस वजह से लोग उनका फायदा उठाते हैं और उन्हें चोट पहुंचाते हैं।

जब प्रेम संबंधों की बात आती है, तो मादा चूहे आसानी से उन पुरुषों के प्यार में पड़ जाते हैं जो कोमल, सांस्कृतिक और विनम्र होते हैं। वे अन्य व्यक्तियों को जानने के लिए पर्याप्त समय लेते हैं, किसी भी तरह की कोई जल्दबाजी नहीं दिखाते आराम से बात करते हैं। एक बार जब वे एक रिश्ते में आ जाते हैं तो वे इसे शादी तक ले जाकर ही दम लेते हैं। जब वे प्यार में पड़ते हैं तो वे हमेशा अपने साथी को सहज और विशेष महसूस कराने की कोशिश करते हैं। वे अपनी सुंदरता दिखाना पसंद करते हैं। इसके लिए वे अक्सर अपना अधिकांश पैसा कपड़े और मेकअप उत्पादों की खरीदारी में खर्च करते हैं। वे फूलों से बहुत प्यार करते हैं और आमतौर पर अपने कमरे को फूलों से सजाते हैं।

अपने कॅरियर में वे साधारण रहना पसंद करते हैं और उसी का आनंद लेते हैं। वे कॅरियर में उतार-चढ़ाव का अनुभव नहीं करेंगे क्योंकि वे हमेशा इस उतार चढ़ाव के बीच में रहना पसंद करते हैं। वे सिर्फ एक सुरक्षित और सुखी जीवन चाहते हैं। ऑफिस में सहकर्मियों के साथ इनके संबंध बहुत अच्छे होते हैं। वह काम करते समय खुद को और दूसरों को प्रोत्साहित करना पसंद करते हैं। वे अपने काम को बहुत गंभीरता से लेते हैं और नए अवसरों को लेना और खुद का साबित करना पसंद करते हैं।

आज ही अपनी छिपी क्षमताओं को बाहर लाएं, अभी अपनी निशुल्क जन्मपत्री प्राप्त करें!


भेड़ और चूहे की अनुकूलता

चीनी राशि भेड़ और चूहा का एक साथ रहना इतना अच्छा नहीं हैं, इन दोनों के बीच संघर्ष और विसंगतियां होती हैं। उनके बीच में आम तौर पर आवेग की अधिकता रहती है। नर चूहे को लगता है कि वह मादा भेड़ की विलासिता को वहन नहीं कर सकता है जबकि मादा भेड़ को लगता है कि नर चूहा एक पैसा का संचय कर रहा है, वह पैसा बचाकर जमा कर रहा है। हालांकि, अगर वे एक-दूसरे के साथ अच्छा व्यवहार करते हैं और खुले दिल से एक-दूसरे को स्वीकार करते हैं तो वे एक सुखी वैवाहिक जीवन जीएंगे। यदि वे एक-दूसरे पर आरोप लगाते हैं और स्वीकार नहीं करते कि वे कौन हैं, तो वे अपने रिश्ते में समस्या पैदा कर सकते हैं और ऐसे रिश्ते अंतत: वे टूट जाते हैं।

दोनों राशियां बहुत नकारात्मक सोचती हैं, यदि वे एक-दूसरे के सकारात्मक पक्षों पर ध्यान केंद्रित करती हैं और एक-दूसरे को समझने की कोशिश करती हैं, तो संभावना है कि वे एक सफल संबंध बनाते हैं। ऐसे में इनका संबंध अच्छी तरीके से लंबे समय तक चल सकता है।  


प्यार में नर भेड़ और मादा चूहे की अनुकूलता

नर भेड़ और मादा चूहा कुछ हद तक संगत हैं। इनका तालमेल ठीक रह सकता है। इसकी  50/50 संभावना है कि या तो वे एक खुशहाल रिश्ते में रह सकते हैं या एक रिश्ते में नहीं रह सकते हैं। चूहा राशि की महिला पैसे बचाने में विश्वास करती है, जिसे भेड़ राशि का पुरुष उड़ाने में विश्वास करता है। वह भावुक और आलसी प्रवृत्ति का होता है। वहीं दूसरी तरह ऐसी महिलाएं पुरुषों की इन आदतों से आसानी से चढ़ जाती है। वह चिड़चिड़ा होती है  है और दूसरी तरह वह शांत प्रवृत्ति का होता है। इस वजह से उनके रिश्ते में कलह पैदा हो जाती है।

संभव है कि वे एक दूसरे को नहीं समझेंगे। कभी-कभी वे समानांतर रेखाओं की तरह होते हैं जो कभी एक-दूसरे से नहीं मिलते हैं, जबकि कभी-कभी वे एक-दूसरे के साथ होने वाली प्रतिच्छेदन रेखाओं की तरह होते हैं। यदि वे पारस्परिक रूप से एक-दूसरे का सम्मान करने और प्यार करने का निर्णय लेते हैं, एक दूसरे को प्यार देते हैं सम्मान करते हैं  तो वे अपने रिश्ते में सफल होंगे या यदि वे नहीं करते हैं, तो स्थिति विपरीत होगी। उनका रिश्ता लंबे समय तक नहीं चल सकेगा। 

कैसी रहेगी अनुकूलता

भावनात्मक संबंध – औसत

संवाद – औसत

विश्वास और निर्भरता – औसत

सामान्य जीवन मूल्य – कमजोर

अंतरंगता – मजबूत

क्या आप जानना चाहते हैं कि आपको अपना मिस्टर या मिस परफेक्ट कब मिलेगा। हमारे विशेषज्ञ ज्योतिषियों से सिर्फ रु. 1 मिनट में बात करें।


प्यार में नर चूहा और मादा भेड़ की अनुकूलता

अब हम देखते हैं चूहे और भेड़ राशि के जीवन में प्रतिकूल स्थिति क्या होती है। नर चूहा परिपक्व, व्यावहारिक और महत्वाकांक्षी होता है जबकि मादा भेड़ भावुक होती है और लापरवाही और विलासिता से जीवन जीना पसंद करती है। नर चूहे को लगता है कि मादा भेड़ बहुत ही खर्चीली होती जा रही है, वह बहुत ही खर्चा करती है और ऐसे में वह उसका खर्चा उठाने में सक्षम नहीं है, वह उससे अलग होना चाहता है।

मादा भेड़ को नर चूहा चालाक और संकीर्ण सोच वाला लगता है। वे एक दूसरे को वैसे ही स्वीकार नहीं कर सकते जैसे वे हैं। वे हमेशा चाहते हैं कि दूसरे लोग बदलें। एक दूसरे के लिए खुद में जरूरी बदलाव लाएं, अपने आप में परिवर्तन लाएं। इससे दोनों के बीच विवाद और वाद-विवाद की स्थिति पैदा हो जाती है।

जब किसी पारस्परिक निर्णय की बात आती है तो वे अलग हो जाते हैं। वे एक बात पर सहमत नहीं हो सकते हैं। ये चीजें उनके रिश्ते में परेशानी पैदा करती हैं। वे हमेशा अपने रिश्ते में विश्वास से जुड़े मुद्दे और समस्याएं पाते हैं। लेकिन अगर आप इन बातों का ख्याल रखते हैं और एक-दूसरे पर भरोसा करने लगते हैं तो आप अपने रिश्ते को शादी में बदलने के लिए  एक कदम आगे बढ़ा सकते हैं। ऐसा करने पर ही इन दोनों की शादी सफल साबित हो सकती है।

कैसी रहेगी अनुकूलता

भावनात्मक संबंध – कमजोर

संवाद – औसत

विश्वास और निर्भरता – कमजोर

सामान्य जीवन मूल्य – औसत

अंतरंगता – औसत

 

कुल मिलाकर उनकी संगतता स्कोर 55 फीसदी से ऊपर है, जो औसत है। ऐसे में इनका रिश्ता औसत रूप से सफल रह सकता है।  

 

ज्योतिषीय गाइड के माध्यम से अपनी औसत अनुकूलता को सर्वश्रेष्ठ में बदलने का ये ही समय है, मॉयपंडित ऐप अभी डाउनलोड करें!


अगर आपका साथी भेड़ है तो क्या करें?

अगर आपका साथी भेड़ है, तो आप बहुत भाग्यशाली हैं। भेड़ें आमतौर पर शांत और समझदार होती हैं। वे आपको अंत तक प्यार करेंगे। वे सिर्फ आपकी तरफ से वफादारी की उम्मीद करते हैं बस। अगर आप वफादार हैं तो वे हमेशा आपके साथ रहेंगे। वे बहुत सकारात्मक हैं। अगर आप वफादार हैं तो वे किसी भी मामले में आपकी मदद करेंगे। हमेशा आपके लिए तैयार खड़े रहेंगे। वे आपके निर्णय लेने में स्वतंत्रता का सम्मान करेंगे और आपके लिए अच्छे के लिए आपका समर्थन भी करेंगे। वहीं दूसरी ओर ये बहुत ही कोमल हृदय के होते हैं, आपसे एक छोटी सी गलती से भी ये आहत हो सकते हैं और आपको नजरअंदाज करने लग सकते हैं। इसके अलावा ये आपके लिए बेस्ट पार्टनर साबित हो सकते हैंं। वे बहुत सपोर्टिव और प्यार करने वाले होते हैं। एक बार जब वे आपका हाथ पकड़ लेंगे तो वे आपको अकेला नहीं छोड़ेंगे। कभी भी आपसे अलग नहीं होंगे, यही उनकी सबसे खास बात है।

भेड़ का सबसे अच्छा मैच खरगोश, घोड़े और सुअर के साथ हो सकता है। उन्हें बैल, चूहा, सांप और ड्रैगन से बचना चाहिए क्योंकि यह मैच स्वस्थ संबंध नहीं बनाएगा।

आपका व्यक्तित्व बहुत मायने रखता है। इसे अपनी जन्मपत्री की मदद से बेहतर स्थिति में लाएं। अपनी नि:शुल्क जन्मपत्री अभी प्राप्त करें!


अगर आपका पार्टनर चूहा है तो क्या करें?

यदि आपका साथी चूहा है तो आपको कई बातों का ध्यान रखना चाहिए और उसके अनुसार व्यवहार करना चाहिए। चूहे राशि वाले लोग जल्दी गुस्सा हो जाते हैं, गुस्सा आने पर आपको उनसे बहस नहीं करनी चाहिए। उन्हें भौतिकवादी चीजें पसंद नहीं हैं, वे सिर्फ आपका सच्चा प्यार और वफादारी चाहते हैं। नकारात्मक पक्ष पर वे अपने साथी के साथ बात करते समय कभी-कभी असभ्य हो जाते हैं। वे कभी-कभी ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं जो उनके पार्टनर के लिए सहने योग्य होते हैं, कई बार सहने योग्य नहीं होते हैं। इसलिए, यदि आपका साथी चूहा है, तो आपको सलाह दी जाती है कि अपने साथी के साथ व्यवहार करते समय शांत रहें और धैर्य रखें।

चूहे का सबसे अच्छा मैच ड्रैगन, बंदर और बैल के साथ हो सकता है। उन्हें घोड़े, खरगोश और मुर्गे राशि के जातक से बचना चाहिए, इसके साथ संबंध लंबा नहीं चलता है। 



Get 100% Cashback On First Consultation
100% off
100% off
Claim Offer