धनु राशि अनुकूलता

धनु राशि चक्र की नवी राशि है, इसके स्वामी देव गुरु बृहस्पति हैं, जिन्हेंं हम गुरु के नाम से भी जानते हैं। यह राशिचक्र में अग्नि तत्व की तीसरी म्यूटेबल राशि है। धनु राशि के लोग अनप्रिडिक्टेबल, इमपेशेंट, इंडिपेंडेंट और बुद्धिमान होते हैं। द्विस्वभाव की राशि होने के कारण इनके मन और शरीर के बीच सदैव द्वंद्व की स्थिति बनी रहती है, इसलिए उन्हें कई बार दूसरों की सलाह की जरूरत होती है। धनु राशि के लोग आशावादी, धार्मिक, फैशनेबल और ईमानदार होते हैं। अपने राशि चिह्न धनुर्धर अश्व मानव की तरह वे सदैव किसी भी अच्छी और बुरी परिस्थितियों के लिए तैयार रहते हैं। धनु किसी भी व्यक्ति या बात पर आसानी से विश्वास नहीं करते हैं, बल्कि अपनी जिज्ञासा के कारण उन चीजों की गहराई में जाने की इच्छा रखते हैं।

अन्य राशियों के साथ धनु के संबंध

धनु राशि के लोग अपने प्रेम जीवन और संबंधों के बारे में खुलेे विचारों के होते हैं। अग्नि तत्व की अधिकता के कारण धनु राशि के लोगों में उत्साह और उर्जा देखते ही बनता है, वे सत्य के खोजी होते हैं और जीवन में हर तरह के सच को स्वीकार करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि द्विस्वभाव की राशि होने के कारण धनु कई बार असमंजय में हो सकते है। सवाल यह है कि धनु के इन गुणों के साथ राशिचक्र की कौन सी राशियां सहजता से संबंध बना पाती है। हालांकि किसी राशि के साथ सिर्फ संबंध बनाना ही काफी नहीं बल्कि उस राशि के साथ अपने रिश्तों को लंबे समय तक बनाए रखना अधिक महत्वपूर्ण है। आइए धनु राशि के विभिन्न आयामों के साथ अन्य राशियों के गुणों का आकलन कर जानने का प्रयास करें कि धनु के साथ किन राशियों के संबंध लंबे और निरंतर रहते हैं।

अग्नि तत्व की राशियों के साथ धनु के संबंध

धनु - मेष अनुकूलता

धनु - मेष अनुकूलता

मेष और धनु की जोड़ी कुछ योग्य जोड़ियों में से एक हो सकती हैं। मेष और धनु के रिश्ते में बहुत आवेग, उत्साह और ऊर्जा होती है। मेष और धनु के ये गुण उन्हें एक गहरा और मजबूत रिश्ता बनाने में हेल्प करते हैं। उन्हें एक-दूसरे के साथ समय बिताना पसंद होता है। जैसे-जैसे उनका रिश्ता आगे बढ़ता है उनकी उर्जा का स्तर बढ़ता जाता है। मेष और धनु के राशि स्वामी क्रमशः गुरु और मंगल उन्हें कठिनाइयों और असफलता से लड़ने में मदद करते हैं। हालांकि उन्हें एक-दूसरे का एक अधिक स्वतंत्रता देने की आवश्यकता है।

धनु - सिंह अनुकूलता

धनु - सिंह अनुकूलता

धनु और सिंह दोनों को ही रोमांच पसंद करते हैं, और उनमें एक दूसरे के लिए भरपूर प्यार होता है। वे दोनों अपने गुणों के आधार पर वे एक ही पृष्ठ पर नजर आते हैं। वे दोनों एक दूसरे को समझते हैं और अपने पार्टनर को पूरा सपोर्ट करते हैं। उनमें एक दूसरे का पोषण करने की जबरदस्त क्षमता होती है। धनु और सिंह दोनों का मिलन एक मैच्योर जोड़ी बनाने का काम करती है। धनु और सिंह के राशि स्वामी सूर्य और गुरु का प्रभाव उन्हें धीरे – धीरे एक स्टेबल रिश्ता डवलप करने में मदद करते हैं। धनु और सिंह की जोड़ी कंपेटिबिलिटी चार्ट पर काफी बेहतर करते नजर आते हैं।

धनु - धनु अनुकूलता

धनु - धनु अनुकूलता

धनु – धनु की जोड़ी किसी आजाद परिंदे की तरह हो सकती है, उनका मिलन एक मधुर और मजेदार रिश्ते की नींव रखने का काम करता है। वे दोनों सोशल होते हैं और उन दोनों ही राशियों के लोगों को पार्टी करना पसंद होता है। हालांकि कई बार धनु की स्पष्टता उनके पार्टनर को ठेस पहुंचा सकती है। लेकिन वे अपनी समझदारी और आपसी तालमेल के दम पर इन छोटी-मोटी परेशानियों का सामना करने में सक्षम है। धनु और धनु को अपने राशि स्वामी गुरु का आशीर्वाद प्राप्त है, गुरु के प्रभाव उन्हें एक-दूसरे के साथ अच्छे से तालमेल बनाने और उसे लंबे समय तक निभाने में मदद करता है।

पृथ्वी तत्व की राशियों के साथ धनु के संबंध

धनु - वृषभ अनुकूलता

धनु - वृषभ अनुकूलता

धनु और वृषभ अग्नि और पृथ्वी तत्व की राशियां हैं, इन दोनों ही राशियों के लोगों में एक-दूसरे के प्रति सम्मान की भावना होती है। धनु और वृषभ एक बेहतरीन जोड़ी का निर्माण कर सकते हैं। हालांकि वृषभ और धनु दोनों कई बार अपने स्वभाव के कारण रिश्तों में मतभेदों का सामना करना पड़ सकता हैं। रिश्ते में धनु को स्वतंत्रता की आवश्यकता होती है, वहीं वृषभ राशि के लोगों को सुरक्षा और स्थिरता की जरूरत होती है, जो उनके रिश्ते में संघर्ष की वजह बन सकता है। इसी के साथ शुक्र और गुरु की जोड़ी उन्हें एक बेहतर दोस्त बनने में मदद करता है, इससे उनके रिश्तों को स्टेबिलिटी मिलती है।

धनु - कन्या अनुकूलता

धनु - कन्या अनुकूलता

कन्या और धनु राशियों के रिश्तों में बुनियादी असंतुलन देखने को मिलता है। क्योंकि, वे दोनों एक-दूसरे से विपरीत नजर आते हैं और उनमें कुछ खास समानताएं नहीं होती हैं। जो सबसे अच्छी चीज वे आमतौर पर एक दूसरे के साथ शेयर करते हैं वह है, उनके बीच होने वाला डे टू डे का संवाद और वार्तालाप है। कन्या राशि के लोग बेहतरीन अनालिस्ट और लाॅजिकल सोच वाले होते हैं। वहीं कन्या राशि के लोग घरेलू और शांत स्वभाव के होते हैं। धनु और कन्या के राशि स्वामी गुरु और बुध के मिलन को भी वैदिक ज्योतिष में किसी रिश्ते के लिए अधिक अनुकूल नहीं माना जाता। गुरु और बुध साथ धुन और कन्या के रिश्ते में कई तरह की परेशानियां पैदा कर सकता है, कुल मिलाकर वे दोनों एक-दूसरे के साथ अधिक अनुकूल नजर नहीं आते हैं।

धनु - मकर अनुकूलता

धनु - मकर अनुकूलता

धनु और मकर की जोड़ी काफी जटिलताओं से भरी हो सकती है, उन्हें एक-दूसरे के साथ अनुकूलता प्राप्त करने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। धनु और मकर दोनों अपनी प्रकृति से बिलकुल अलग होते हैं, जिसके कारण उन्हें एक दूसरे के साथ तालमेल बनाने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अग्नि और पृथ्वी तत्व की राशि होने के कारण भी उन्हें एक दूसरे को समझने में मुश्किलें हो सकती है। धनु और मकर के राशि स्वामी भी उन्हें एक दूसरे के लिए अनुकूल होने में हेल्प नहीं करेंगे । किसी रिश्ते के लिए गुरु और शनि के रिश्तों को अधिक लाभकारी नहीं माना जा सकता।

वायु तत्व राशियों के साथ धनु की अनुकूलता

धनु - मिथुन अनुकूलता

धनु - मिथुन अनुकूलता

धनु और मिथुन के बीच बेहतर संबंधों की उम्मीद की जा सकती है, वे दोनों एक साथ एक सुंदर और रोमांटिक जोड़ी बनाने का काम करते हैं। उनका स्वभाव एक-दूसरे से काफी मेल खाता है, और वे एक दूसरे का पूरा सपोर्ट करते हैं। वे दोनों एक दूसरे के लिए ईमानदार है, और सदैव एक दूसरे के साथ समय बिताना चाहते हैं। धनु और मिथुन का ग्रह संयोजन भी इन दोनों को करीब लाने का काम करता है। गुरु और बुध के प्रभाव से धनु और मिथुन की जोड़ी को आपस में बेहतरीन समझ और तालमेल बनाने में हेल्प कर सकता है। कंपेटिबिलिटी चार्ट पर धनु और मिथुन की अनुकूलता एवरेज से हाई नजर आती है।

धनु - तुला अनुकूलता

धनु - तुला अनुकूलता

धुन और तुला का मिलन एक आकर्षक जोड़ी का निर्माण कर सकते हैं। धनु और तुला का एक साथ आना उनके सपनों को हकीकत में बदलने में मदद करता है। वे दोनों एक दूसरे को बिना शर्त के प्यार करते हैं, और अपने पार्टनर के लिए बलिदान देने को भी तैयार होते हैं। दरअसल धनु और तुला की जोड़ी अपने राशि स्वामी शुक्र और गुरु के कारण काफी सकारात्मक और अनुकूल नजर आता है। वैदिक ज्योतिष में शुक्र और गुरु के मिलन को बेहद लाभकारी और अनुकल माना गया जो धनु और तुला की जोड़ी को अन्य राशियों की अपेक्षा एक स्थिरता देने का काम करती है। कंपेटिबिलिटी चार्ट पर धनु और तुला की जोड़ी काफी बेहतर नजर आती है।

धनु - कुंभ अनुकूलता

धनु - कुंभ अनुकूलता

धनु और कुंभ राशि के लोग एक दूसरे के साथ काफी मेल खाते हैं, वे दोनों एक दूसरे की प्रकृति और स्वभाव के साथ आसानी से ढल जाते हैं, जिससे उनके बीच बेहतरीन संबंध डवलप होने की संभावना को बल मिलता है। जब अग्नि को हवा का साथ मिलता है, तो वह अधिक तेजी से फैलने का काम करती है। हालांकि इससे कई बार स्थिति प्रतिकूल भी हो सकती है, लेकिन धुन और कुंभ अपनी आपसी समझ से रिश्तों पर इसके नेगेटिव इंपेक्ट नहीं पड़ने देते। धनु और कुंभ का मिलन एक लंबे और स्टेबल रिश्तों की नींव रखने का काम करती है।

जल तत्व की राशियों के साथ धनु के संबंध

धनु - कर्क अनुकूलता

धनु - कर्क अनुकूलता

धनु और कर्क की जोड़ी अधिक अनुकूल नजर नहीं आती, हालांकि वे दोनों एक दूसरे को बेहतरी ढंग से बैलेंस करने का काम जरूर कर सकते हैं। दरअसल धनु और कर्क दो विपरीत गुण दोष वाली राशियां है, जहां धनु खुले विचार वाले और इंडिपेंडेंट होते हैं, वहीं कर्क इंट्रोवर्ट और ट्रेडिशनल होते हैं। सच्चाई यह है कि वे दोनों एक दूसरे से बिलकुल अलग है, और उनके रिश्तों में आपसी तालमेल या समझ दिखाई नहीं देती है। धनु और कर्क दोनों ही एक दूसरे से अलग उद्देश्य साझा करते हैं। चंद्रमा और गुरु का मिलन भी उनके रिश्तों को अधिक अनुकूल बनाने का काम नहीं करता है। उन्हें एक दूसरे के स्वभाव और गुणों के साथ तालमेल बनाने में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जिससे रिश्तों के लंबे समय तक चलने की संभावनाएं कम होती है।

धनु - वृश्चिक अनुकूलता

धनु - वृश्चिक अनुकूलता

धनु और वृश्चिक आकाशीय पड़ोसी है, लेकिन फिजिकल या भौतिक रूप से उनके संबंध अधिक अनुकूल दिखाई नहीं देते। हालांकि धनु और वृश्चिक दोनों खुले विचारों वाले संवेदनशील लोग हैं, जिनका एक-दूसरे से भावनात्मक जुड़ाव भी है। उनके रिश्तों में आपसी समझ और तालमेल की कमी साफतौर पर नोटिस की जा सकती है। अग्नि और जल एक दूसरे के अपोजिट हैं, इसलिए उन्हें आपने दृष्टिकोण और विचारों को एक दूसरे के साथ जोड़ने में परेशानी आएगी। हालांकि धनु और वृश्चिक राशि के लोगों में यह क्षमता है, कि वे एक-दूसरे के साथ तालमेल बनान सकते हैं, क्योंकि आग और पानी एक दूसरे के कितने भी अलग होते हैं लेकिन वे एक दूसरे को बैलेंस भी करते हैं।

धनु - मीन अनुकूलता

धनु - मीन अनुकूलता

जल तत्वों की राशियों की तीसरी और राशिचक्र की आखिरी राशि मीन के साथ धनु के संबंध एवरेज नजर आते हैं। धनु और मीन दोनों ही राशियों के लोगों में एक-दूसरे के साथ बेहतर अनुकूलता प्राप्त के करने की क्षमता है, लेकिन किसी भी ओर से थोड़ा सा भी धक्का लगने पर इनका बैलेंस बिगड़ सकता है। धनु और मीन को अपने रिश्तों में अनुकूलता प्राप्त करने के लिए अधिक समर्पण, समझ और वफादारी की जरूरत होगी। आप अपवाद के रूप में सोच सकते हैं, कि धनु और मीन राशि पर गुरु का संयुक्त रूप से स्वामित्व है, फिर भी इनके संबंध अनुकूल नहीं? तो इसका जवाब है हां! क्योंकि गुरु द्वारा शासित धनु और मीन दोनों के आधार तत्व विपरीत हैं। इसके बाद गुरु अपने रिश्तों में समर्पण, वफादारी और उन्हें आगे बढ़ाने की मांग करेगा और दोनों ही राशियों के लोग इसकी चाह रखेंगे लेकिन आधार तत्वों की भिन्नता के कारण वे दोनों इसे पाने के लिए अलग अलग मार्ग अपनाएंगे। इससे उनके रिश्तों में तनाव बढ़ेगा और रिश्तों के लंबे समय तक बने रहने में मुश्किलों का सामना करने पड़ सकता है।

धनु राशि के लिए अधिक अनुकूल राशियां

धनु के लिए बेस्ट मैच – मेष, कुंभ और सिंह

धनु राशि के लोग साहसी, बातूनी और फिजिकल एक्टिविटी पसंद करने वाले लोग होते हैं। धनु के इन गुणों के साथ मेष और सिंह राशि के लोग बहुत ही आसानी से तालमेल बना पाते हैं, जिससे उनके संबंध अन्य राशियों की अपेक्षा मेष और सिंह जैसी राशियों के साथ अधिक अनुकूल होते हैं। इसके अलावा मेष और सिंह और धुन तोनों ही अग्नि आधार तत्व से संबंध रखती है, जो उन्हें एक साथ आगे बढ़ने के लिए एक समानांतर सड़क देने का काम करता है। वहीं कुंभ और धनु के संबंध उनकी आपसी समझ और तालमेल पर निर्भर होते हैं, वे दोनों एक दूसरे के साथ बहुत ही अच्छी तरह घुल मिल जाते हैं और एकरंग हो जाते हैं।

धनु राशि के लिए कम अनुकूल राशियां

धनु के लिए प्रतिकूल राशियां – वृषभ, मकर और कन्या
एक अग्नि तत्व राशि होने के कारण धनु का झुकाव फिजिकल एक्टिविटी पर अधिक होता है, वे आउटिंग, एडवेंचर और साहस से भरे काम करना चाहेंगे। वहीं वृषभ, कन्या और मकर तीनों ही एडवेंचर और आउटिंग में दिलचस्पी नहीं रखते हैं, बल्कि उन्हें अपना फ्री समय घर पर ही छोटे-मोटे काम और आराम करके बिताना पसंद है। वृषभ कन्या और मकर की सोच धनु के विचारों से बिलकुल विपरीत है! वृषभ, मकर और कन्या तीनों ही पृथ्वी तत्व की राशियां हैं जो उन्हें स्थिर बनाने का काम करती है। इसी के साथ वृषभ, मकर और कन्या की सोच भी धनु के विचारों से बिलकुल भिन्न होगी, जो उन्हें एक सामान्य जमीन प्राप्त करने से रोकने का काम करेगा।

धनु मित्रता अनुकूलता – अपने बेस्ट फ्रेंड्स को जानें

धनु खुले और स्वतंत्र विचारों वाले धनु राशि के लोगों को नए दोस्त बनाना और पुरानों के साथ महफिल जमाना बेहद पसंद होता है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि धनु के साथ किस तरह के लोगों के संबंध अधिक अनुकूल होते हैं। मेष, कुंभ और सिंह राशि के लोगों के संबंध धनु के साथ सबसे बहतरीन होते हैं, इन राशियों के लोगों भी अपने फ्रेंड सर्कल के आसपास ही अपनी लाइफ को आगे बढ़ाते हैं। धनु राशि के साथ दोस्ती बढ़ाने और लंबे समय तक चलाने के लिए मेष, सिंह और कुंभ तीनों की राशियों में कई तरह की अनुकूलता है। धनु के साथ इन राशि के लोगों की दोस्ती उनके भावनात्मक संबंधों को आगे बढ़ाने का काम करती है, और वे एक दूसरे के साथ अधिक अनुकूल संबंधों का निर्माण कर सकते हैं।

धनु प्रेम अनुकूलता – सही चुनाव के साथ अपने प्रेम जीवन को अधिक अनुकूल बनाएं

ऊपर हमने कई बार इस बात का जिक्र किया कि धनु राशि के लोग खुले विचारों वाले होते हैं, लेकिन आपको यह जानकर अधिक खुशी होगी कि वे खुले दिलवाले भी होते हैं। वे अपने अंदर किसी चीज को छिपाकर नहीं रख पाते और अपने पार्टनर या साथी के साथ हर बात शेयर करते हैं। धनु के इन गुणों के साथ मेष, कुंभ और सिंह राशि के लोगों की जोड़ी अधिक अनुकूल प्रेम संबंध स्थापित कर सकती है। इन तीनों ही राशियों के लोग एक-दूसरे के साथ अधिक बेहतर ढंग से घुलमिल पाते है। उनके संबंध रोमांस और फिजिकल रिलेशन के लिए भी बहुत अनुकूल नजर आते हैं। कुल मिलकर मेष, सिंह और कुंभ राशि के लोगों के साथ धनु प्रेम अनुकूलता का अच्छा स्तर प्राप्त करने की संभावना रखते हैं।

धनु वैवाहिक अनुकूलता – अनुकूल साथी के साथ शुरू करें अपना वैवाहिक जीवन

उपरोक्त कई सारे उदाहरणों से आप यह तो जानते ही है, कि धनु के संबंध खुल विचारों और बिंदास किस्म की राशियों के साथ अधिक बेहतर रहने वाले हैं। इसका सीधा सा अर्थ यह हुआ कि धनु के वैवाहिक संबंध भी उन्हीं तीन राशियों के साथ अधिक अनुकूल रहेंगे जो दोस्ती और प्रेम में उनके लिए अनुकूल हैं। विवाह जीवनभर का साथ होता है, जिसे निभाने में दोनों ही राशि के लोगों को जीवन के लगभग हर क्षेत्र में अुनकूल होनी चाहिए। एक धनु राशि के व्यक्ति को अपने वैवाहिक जीवन को अधिक अनुकूल और मधुर बनाने के लिए सिंह, मेष और कुंभ राशि जैसे लोगों का साथ होना है। एक बार विवाह बंधन में बंधने के बाद इन राशि के लोगों किसी भी चुनौतीपूर्ण समय में भी धनु का साथ निभाते हैं और धनु भी इनके लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं। एक विवाह को सफल बनाने के लिए एक दूसरे के सपोर्ट और समर्थन से बेहतर कुछ नहीं होता।

निष्कर्ष

दोस्त, प्रेम और विवाह जीवन के कुछ ऐसे क्षेत्र हैं, जो आपके जीवन को खुशहाल और लंबा बनाने का काम करते हैं। कभी कभी कुछ गलत फैसलों के कारण आपको अपने संबंधों में परेशानियों और मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। आपकी दोस्ती, लव लाइफ या विवाह में आने वाली ऐसी परेशानियां आपके रिश्ते पर नेगेटिव इंपेक्ट डालने का काम करती है। हालांकि ज्योतिषीय परामर्श से इस तरह की समस्याओं का पहले से ही आकलन कर इनसे निपटने के लिए तैयारी की जा सकती है। फिलहाल हमारे अनुभवी ज्योतिषियों ने धनु के दोस्त, प्रेम और विवाह के लिए अनुकूल और प्रतिकूल राशियों का वर्णन किया है। उम्मीद है कि इस आधार पर आप अपने लिए अधिक अनुकूल पार्टनर खोज पाएंगे। आप अपनी निजी कुंडली के आधार पर और भी सटीक आकलन प्राप्त कर सकते हैं, अभी काॅल करें।

Astro GuideAstro Guide

Day Guide
Day Guide

Comprises of events likely to happen, hourly guidance & precise timeframes

Life Meter
Life Meter

Know the percentages of different aspects of your physical and mental state

Compatibility
Compatibility

Check out how well will your wavelengths with others match