माणिक रत्न : जानिए रूबी या माणिक के बारे में सब कुछ

माणिक रत्न : जानिए रूबी या माणिक के बारे में सब कुछ

माणिक का उपयोग अन्य इच्छाओं को पूरा करने के साथ-साथ अपनी स्थिति को सुधारने के लिए भी किया जाता है। माणिक धारण करने वाले जा जीवन शानदार तरीके से आगे बढ़ता है। इसमें किसी के व्यक्तित्व, धन और यहां तक कि किसी के पूरे जीवन में सुधार भी शामिल हो सकता है। चूंकि इनमें से प्रत्येक रत्न केवल कुछ विशिष्ट लोगों या कुछ विशिष्ट स्थितियों के लिए होता है, ऐसे में इसे धारण करते समय अत्यधिक सावधानी बरतने का सुझाव दिया जाता है। हालांकि, इनमें से किसी भी कीमती रत्न को धारण करने से पहले, किसी ज्योतिषी से परामर्श करना या इनके बारे में कुछ जानकारी प्राप्त करने हमेशा ही अच्छा होता है।


रूबी क्या है?

क्या आपने कभी सोचा है कि रूबी बर्थस्टोन का मतलब क्या होता है या रूबीरत्न वास्तव में क्या है? यदि आपने ऐसा किया है, तो हम इन सभी रोमांचकसवालों के जवाब देने के लिए यहां मौजूद हैं। तो आइए शुरू करते हैं।

“रूबी” नाम लैटिन शब्द “रूबर” से आया है, जिसका अर्थ है “चमकना”। अधिकारीकी भूमिका में रहने वाले लोगों द्वारा लंबे समय से रूबी की सराहना की जातीरही है। इसके साथ ही प्रेम करने वाले के लिए यह महत्वपूर्ण है, और इसलिएइसे एक ऐसा रत्न माना जाता है, जिसमें बहुत सारी भावनाएं शामिल होती हैं।कुछ संस्कृतियों में रत्न की उत्पत्ति को लेकर एक किंवदंती भी है। ऐसा कहाजाता है कि रूबी बर्थस्टोन पेड़ों पर उगते हैं, सफेद कलियों के रूप मेंशुरू होते हैं और फिर कटाई के लिए तैयार लाल माणिक के रुप में खिलते हैं।रूबी का उल्लेख बाइबिल में किया गया है और दुनिया की कुछ सबसे पुरानीसभ्यताओं में इसके उपयोग और महत्व के बारे में बताया गया है।

विशिष्ट ग्रहों की किरणें रत्नों के प्रति संवेदनशील होती हैं। यद्यपि हमग्रहों को भूकेन्द्रित दृष्टिकोण से देख सकते हैं। दूसरी ओर, ग्रह कभी अस्तनहीं होते हैं – वे हमेशा ब्रह्मांड में होते हैं, हर समय हर चीज में अपनाबल फैलाते हैं। रत्न पहनने से हमें ग्रहों की ऊर्जा प्राप्त होती है। एकविशिष्ट रत्न के माध्यम से यानी जैसे ही वह रत्न हमारे शरीर के संपर्क मेंआता है, हम ग्रह की ऊर्जा और किरणों के प्रति शारीरिक रूप से अधिकसंवेदनशील हो जाते हैं। रूबी रत्न कुछ अन्य खनिजों के साथ भी मिश्रित होसकता है। इनमें से एक है एनोलाइट, जिसे आमतौर पर रूबी के साथ ज़ोसाइट यारूबी ज़ोसाइट के रूप में जाना जाता है। यह एक उत्कृष्ट प्राकृतिक खनिजसंयोजन है। रूबी साहस और शक्ति का पत्थर है, और यह हमें नियमित रूप से किसीभी चिंता या परेशानी से मुक्त करती है। ग्रीन ज़ोसाइट की जीवन शक्ति जीवनके सभी क्षेत्रों में विकास और प्रजनन क्षमता को बढ़ावा देती है।

जानिए अपनी जन्मपत्री एकदम फ्री…


माणिक रत्न का महत्व

हिन्दू ज्योतिष में कुंडली में ग्रहों की स्थिति के आधार पर रत्नों कीसिफारिश की जाती है। हिंदू ज्योतिष के अनुसार माणिक्य को जन्म कुंडली केअनुसार ही धारण करना चाहिए। रूबी को वैदिक ज्योतिष में सूर्य ग्रह से जोड़ागया है। सूर्य सौरमंडल का सबसे शक्तिशाली ग्रह है। सूर्य दुनिया में हमारेअहंकार और आत्म-प्रक्षेपण के साथ-साथ हमारे शारीरिक स्वास्थ्य और ऊर्जा कोभी निर्धारित करता है। एक मजबूत सूर्य वाला व्यक्ति ऊर्जा से भरा होता हैऔर ध्यान का केंद्र भी होता है। यदि किसी की कुंडली में सूर्य ग्रहशक्तिशाली प्रतीत हो तो उसे सूर्य ग्रह की शक्ति को मजबूत करने के लिएमाणिक रत्न धारण करना चाहिए। आपकी बैटरी को रिचार्ज करने के लिए रूबी स्टोनएक अद्भुत उपकरण है। यह जोश, कामुकता और व्यक्तिगत संबंधों को बढ़ाने मेंअद्भुत तरीके से काम करता है। यह एक गहरा रत्न और आकर्षक रंगों वालेक्रिस्टल के तौर पर प्रसिद्ध है। इसका रंग इसकी ऊर्जा से मेल खाता है, जोआपकी सोच को और अधिक हंसमुख और आत्मविश्वासी बनने में मदद कर सकता है। येखूबसूरत रत्न आपको बेडरूम की समस्याओं को दूर करने और नए प्यार को आकर्षितकरने में मदद कर सकते हैं। यह पत्थर विशेष रूप से हृदय-केंद्रित है, और यहनिर्माता के ईश्वरीय प्रेम का उदाहरण है। यह एक प्रकट पत्थर है जो सभीप्रकार के धन को बनाए रखने में भी सहायता करेगा।

साल 2022 आपके जीवन में क्या लेकर आया है, जानिए अपनी वार्षिक रिपोर्ट…


माणिक रत्न के लाभ

प्राचीन काल से माणिक का उपयोग लोगों को ठीक करने और उनकी रक्षा करने केलिए एक ताबीज के रूप में किया जाता रहा है। ऐसा माना जाता था कि इसमेंह्रदय को ठीक करने वाले गुण होते हैं और इस कारण उस वक्त माणिक को महीनपाउडर के रुप में पीसकर जीभ के किनारे लगाया जाता है। कई प्राचीन सभ्यताओंका माना था कि लड़ाई के दौरान माणिक पहनने से उनकी रक्षा होगी और उनकी जानबच जाएगी। इसके अलावा, हिंदुओं और यूनानियों का मानना था कि माणिक काचमकीला रंग पत्थर के भीतर लगी आग के कारण था। यह उपयोगकर्ता को ज्ञान,स्वास्थ्य और भाग्य प्रदान करने वाले के तौर पर भी जाना जाता है और आज भी ऐसा ही है।

भारतीय चिकित्सा विज्ञान में माणिक भस्म (रूबी का महीन पावडर) कईआयुर्वेदिक उपचार और पूरक का एक घटक है। माणिक को ज्योतिष में एकमहत्वपूर्ण रत्न के रूप में भी माना जाता है, जिसमें व्यक्तियों को उनकी कईकठिनाइयों के समाधान में सहायता करने की शक्ति होती है। हमने आपके लिए इसपत्थर के कुछ ज्योतिषीय लाभों को सूचीबद्ध किया है। रूबी या माणिक रत्नधारण करने के कुछ लाभ निम्नलिखित हैं :

  • भारतीय रूबी रत्न रचनात्मकता, ज्ञान और प्रेम के साथ-साथ आध्यात्मिकता और आत्म-विश्वास भी पैदा करता है।
  • माणिक व्यक्ति की मानसिक क्षमताओं को लाभ पहुंचाता है और उसे काफी बढ़ाता है।
  • माना जाता है कि भारतीय माणिक एक महिला के जुनून और शक्ति को बढ़ाता है, जबकि ऐसा माना जाता है कि यह एक पुरुष के बड़प्पन और सम्मान को बढ़ाता है
  • रूबी रत्न धारक के रक्त परिसंचरण सुधार में भी सहायता करता है।
  • यह आप में सूर्य की शक्ति का संचार करता है, जिससे आप व्यवसाय में आगे बढ़ सकते हैं और साथ ही अपनी सामाजिक स्थिति और मूल्यों में भी वृद्धि कर सकते हैं।
  • माणिक रत्न धारण करने के कुछ लाभों में अधिक आत्मविश्वास, शक्ति और अधिकार प्राप्त करना शामिल है।
  • अन्य माणिक रत्नों के साथ लाल माणिक रत्न आपके स्वास्थ्य और कल्याण में लाभ या सुधार करता है।
  • रूबी का हीलिंग गुण आपकी इच्छाशक्ति को बढ़ाकर आपकी बुरी आदतों को दूर करने में भी आपकी मदद करता हैं।

रूबी कैसे काम करता है?

प्रत्येक रत्न के गुण और महत्व अद्वितीय हैं। नतीजतन, भारतीय माणिक के पासभी संबंधित ग्रह की शक्तियां होती हैं।भारतीय रूबी स्टोन्स में अविश्वसनीय चिकित्सीय गुण होते हैं जो आपको अपनेजीवन में आत्मविश्वास और सकारात्मकता हासिल करने में मदद कर सकते हैं।भारतीय माणिक रत्न सबसे शक्तिशाली पत्थरों में से एक है, जिसमें रंग-कोडितआवृत्तियों के रूप में सूर्य ग्रह की ऊर्जाएं होती हैं। यह ऊर्जा रत्नद्वारा ग्रहण कर आपके परिवेश में प्रवाहित की जाएंगी।लग्न या भाग्यशाली घर से मेल खाने वाला रत्न धारण करने से व्यक्ति को लाभ होता है।

MyPandit से विश्वसनीय रूबी खरीने कि लिए यहां क्लिक करें…


माणिक्य रत्न का प्रयोग करते समय बरतें सावधानी

  • रूबी रत्न या माणिक रत्न का वजन 3 से 6 कैरेट के बीच होना चाहिए। माणिक
    रत्न का वजन इन दोनों के बीच कहीं भी हो तो वह सबसे अच्छा माना जाता है
  • सर्वोत्तम परिणाम प्राप्त करने के लिए, माणिक पत्थर को सोने या चांदी में डालना चाहिए।
  • इस रत्न को रविवार के दिन प्रातः 5 से 6 बजे के बीच धारण करना चाहिए। यदि संभव हो तो इसे शुक्ल पक्ष में धारण करना चाहिए।
  • माणिक रत्न को धारण करने से पहले उसे गंगाजल या शहद में डूबो देना चाहिए, ताकि उसमें से सारी नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाए।
  • इस रत्न को धारण करते समय 5 अगरबत्ती जलाकर सूर्य देवता से अपने कल्याण के लिए प्रार्थना करें। अब अंगूठी को अपनी हथेली में लें और इसके चारों ओर अगरबत्ती को 11 बार घुमाएं।
  • इस प्रक्रिया को पूरा करने के बाद, सूर्य मंत्र “ओम सूर्यांय नमः” को दोहराएं और अपनी अनामिका में पत्थर को धारण करें।
  • माणिक रत्न धारण करने के 30 दिनों के बाद आपको सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे और अगले चार वर्षों तक आपको इसका आशीर्वाद मिलता रहेगा। इसके बाद यह निष्क्रिय हो जाएगा।
  • इस बात को याद रखें कि इस रत्न को धारण करने के लाभों का आनंद लेने के लिए इसे नियमित रूप से साफ करना चाहिए।

ऑनलाइन रूबी प्राप्त करने का सबसे आसान तरीका

आज के समय में अपने घर में आराम से बैठकर सब कुछ अपनी उंगलियों पर रखना एकजबरदस्त लाभ है। हालांकि ऑनलाइन प्राप्त किए गए रत्नों या माणिक कीप्रामाणिकता या वैधता, शायद चिंता का विषय हो सकती है। लंबे समय से लेकरसारी जांच-परख के साथ ही सामान को देखने के बाद ही ज्वेलर्स से खरीदारीकरते रहे हैं। इसके बावजूद उन्हें अपनी आंखों या मशीन की रीयल-टाइमव्याख्याओं पर भरोसा करने में परेशानी होती है, इसलिए इनमें से किसी भीकीमती पत्थर को ऑनलाइन खरीदना एक बड़ा संघर्ष साबित हुआ है। हालांकि अबआपको और चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि हमने आपकी सारी चिंताओंका समावेश कर उन्हें दूर करने का प्रयास किया है।

MyPandit आपके पैसे के मूल्य और प्रासंगिकता के साथ-साथ आपकी चिंताओं को भीपहचानता है। हम समझते हैं कि अपने ही लोगों द्वारा धोखा दिया जाना या ठगाजाना कैसा लगता है, इसलिए हम आपकी मदद करने आए हैं! हम अन्य भौतिक याऑनलाइन आभूषण विक्रेताओं के विपरीत, केवल 100% प्रामाणिक और प्रयोगशालाप्रमाणित रत्न ही बेचते हैं। हां, यह पूरी तरह सही है। आपको product.mypandit.com पर कुछ अनोखा मिलेगा जो आपको कहीं और नहीं मिलेगा।अपनी सुविधानुसार हमसे ऑनलाइन माणिक रत्न खरीदें।

आप जो कुछ भी चाहते हैं उसकी तलाश कर सकते हैं और हम इसे इसे कम से कम समय में आपके दरवाजे पर पहुंचा सकते हैं, क्योंकि अपने अपने सभी उत्पादों परतीव्र वितरण नीति को फॉलो करते हैं। हां, आपको सबसे बड़े और सबसे किफायतीआभूषण खरीदने के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा क्योंकि MyPandit स्टोरमें सबसे किफायती रूबी के साथ-साथ सबसे सस्ती लेकिन सबसे अच्छी गुणवत्तावाले रत्न और अन्य कीमती आभूषण केवल आपके लिए उपलब्ध हैं! इसमें वह सब कुछहै जो आप हमेशा से चाहते थे। अपने अन्य रत्नों की तरह, MyPandit विशेषज्ञ पंडित पारंपरिक वैदिक विधियों का उपयोग कर रूबी रत्न को सक्रिय करते हैं।

MyPandit ऑनलाइन स्टोर पर जाएं और देखेंगे कि आपके लिए यह अनुभव कितनाअच्छा है, क्योंकि हम वादा करते हैं कि आपको कोई निराशा नहीं होगी। इसकेअलावा, आप सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषियों का मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं,अपने जीवन की सभी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं और www.mypandit.com परसबसे आश्चर्यजनक रूप से सस्ती रूबी स्टोन की कीमत भी प्राप्त कर सकते हैं।


अंतिम और महत्वपूर्ण बात

हर दूसरे कीमती रत्न की तरह, हमेशा से ही पर्याप्त मार्गदर्शन और शोध केबाद माणिक रत्न पहनने की सलाह दी जाती है। इस दौरान काफी सावधान रहें औरअनुपयुक्त रूबी रत्न पहनने से परहेज करें।

हमारे कुशल ज्योतिषी आपको आपके लिए सबसे अच्छी वेरायटी के रूबी रत्न केबारे में सलाह दे सकते हैं। हम आपके लिए जो रत्न और ग्रेड के साथ ही जोकैरेट चुनते हैं, उसके बारे में हम आपको अनुशंसा भी करेंगे। इसके ससाथ हीआपको रत्न धारण करने का सही तरीका और अन्य प्रासंगिक जानकारी के बारे मेंभी बताया जाएगा। हम गारंटी देते हैं कि आप हमसे हर समय सही ज्योतिषीयमार्गदर्शन प्राप्त करेंगे। हम हर वक्त आपकी सेवा में हैं, क्योंकि MyPandit में हम आपकी और आपकी ज़रूरतों का ध्यान रखते हैं।

क्या आपके जीवन में कोई समस्या आ रही है, और आप उसका ज्योतिषीय समाधान चाहते हैं, तो अभी हमारे ज्योतिषीय विशेषज्ञों से बात करें…