2023 अप्रैल माह के मुहूर्त के साथ उपनयन तिथियां

क्या आप उपनयन संस्कार और उपनयन मुहूर्त 2023 के महत्व के बारे में अधिक जानते हैं? उपनयन संस्कार को जनेऊ संस्कार या यज्ञोपवीत संस्कार भी कहा जाता है। यह हिंदू धर्म में महत्वपूर्ण अनुष्ठानों में से एक है। इस प्रकार आने वाले वर्षों के लिए भी उपनयन संस्कार मुहूर्त तिथियों को देखने की सलाह दी जाती है, जैसे हमने आपके लिए उपनयन मुहूर्त 2021 तिथियां दी हैं। इस शुभ अवसर की गणना का मुख्य उद्देश्य यही है कि बालक को देवी-देवताओं और परिवार के सभी सदस्यों की कृपा प्राप्त हो। तो चलिए उपनयन मुहूर्त 2023 के बारे में अधिक जानने के लिए आगे बढ़ते हैं।

जनेऊ संस्कार 2023

हिंदू धर्म में पूरे सम्मान के साथ किए जाने वाले सोलह संस्कार हैं। उपनयन संस्कार उन सोलह संस्कारों में से एक है और इसे जनेऊ संस्कार भी कहा जाता है। जनेऊ तीन सफेद रंग के धागों से बनाया जाता है जो प्रकृति में पवित्र होगा। इसे बाएं कंधे से दाएं तरफ पहनना चाहिए। यह उन लड़कों द्वारा पहना जाएगा जिनकी उम्र 8 से ऊपर है।

सनातन धर्म के अनुसार, उपनयन भगवान के साथ सीधा संबंध कहता है। इस अनुष्ठान के लिए मुहूर्त जाँचने को यज्ञोपवीत संस्कार मुहूर्त भी कहा जाता है। यज्ञो शब्द का अर्थ है यज्ञ-हवन करने का अधिकार रखने वाला। ऐसा माना जाता है कि जब आप सही विधि से जनेऊ संस्कार करते हैं तो सभी पाप और दोष समाप्त हो जाते हैं। इसलिए यह ध्यान देने योग्य बात है कि एक बच्चे का दूसरा जन्म होता है।

पहले के दिनों में, जनेऊ संस्कार करने के बाद ही लड़के को शिक्षा प्राप्त करने की अनुमति दी जाती थी। इस लेख में हम विस्तार से बताते हैं कि बच्चे का उपनयन कब करें।

उपनयन मुहूर्त के लाभ और महत्व 23

हिंदू संस्कृति के अनुसार उपनयन या जनेऊ संस्कार का ज्योतिषीय, वैज्ञानिक और धार्मिक महत्व है। उपनयन का अनुष्ठान त्रिमूर्ति (ब्रह्मा, विष्णु और शिव) से जुड़ा हुआ है। इस प्रकार तीन जनेऊ या तीन धागे इन तीन देवताओं का प्रतिनिधित्व करते हैं। ब्रह्मा ने इस संसार की रचना की, विष्णु इस संसार के पालक हैं और शिव संहारक हैं। यही कारण है कि जहां उपनयन संस्कार करते समय देवताओं से सीधा संबंध होने के बारे में जाना जाता है।

ऊपर लपेटकर

यदि आपका बच्चा लड़का है तो उपनयन संस्कार के महत्व को जानना उचित है। जीवन भर देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त करें। किसी ज्योतिषी से बात करें और उनकी कुंडली के अनुसार उपनयनम करने की शुभ तिथियां और समय जानें।

Goodies for The Good Times