चीनी राशि मुर्गा ( Rooster ) और सुअर ( Boar ) के बीच कैसा रहेगा प्रेम

चीनी राशियों दो प्रमुख राशियां होती है मुर्गा और शुकर (सुअर)। जब इन दोनों के बीच संबंध या रिश्ते की बात आती है तो इनके बीच में संबंध तालमेल बैठाने वाले होते हैं। सूअर काफी संवेदनशील होते हैं, और इसलिए वे हमेशा एक ऐसे साथी की तलाश में रहते हैं पूरी तरह समर्पित हो। इस रिश्ते में हमेशा दबदबा मुर्गा राशि के पुरुष का होता है। वह हमेशा अपनी पत्नी या अपने हमसफर के लिए एक आलोचक के रूप में काम करता है।

वहीं सुअर राशि की महिला में भावनाएं भरी हुई होती हैं। वह आत्मा से त्याग करने वाली, समर्पित और पूरी तरह देखभाल करने वाली महिला होती है। इसके अलावा वह अपने भावुक स्वभाव के कारण स्वतंत्र रहना पसंद नहीं करती है और वह पूरी तरह अपने साथी के लिए समर्पित हो जाती है।


चीनी राशि मुर्गा और सूअर: व्यक्तित्व की विशेषताएं

ऐसा कहा जाता है कि हर व्यक्ति का स्वभाव नहीं बदला जा सकता क्योंकि वह जन्म से बनता है। मौलिक व्यवहार स्वाभाविक होता है। कुछ चीनी ज्योतिषी राशियों के मामले में भी ऐसा ही होता है। उनके व्यक्तित्व की लक्षण करीब करीब एक जैसे होते हैं। जब वे सामने आते हैं तो एक समान नजर आते हैं। उनके लक्षण का एक दूसरे से मेल होता नजर आता है। लगता है कि ये दोनों साथ रहेंगे तो उनमें संतुलन कायम रहेगा।


सूअर राशि के पुरुष: व्यक्तित्व कैसा होता है

सूअर राशि के पुरुष का स्वभाव बहुत ही शांत होता है। वह समझदार और शांत दिमाग से काम लेने वाले होते हैं। वे हमेशा अपने रिश्ते के लिए समर्पित रहते हैं। वे इतने उदार और मिलनसार होते हैं कि वे किसी को अपनी गलतियों के लिए क्षमा कर सकते हैं, बशर्ते की ये गलतियां सोच समझकर न की गई हों। ये बहुत ही सक्रिय भी होते हैं। वे हमेशा अपने आस पास घटित होने वाले घटनाओं या गतिविधियों में शामिल होने का प्रयास करते रहते हैं। यही कारण है कि लोग उन पर बहुत जल्दी भरोसा कर लेते हैं।

खूबियां

अच्छी प्रतिष्ठा:
इन जातकों की मदद के लिए प्रकृति ने उन्हें वरदान दिया है। यह स्वाभाविक है कि लोग इन्हें बिना कहे, बिना कुछ करे ही मदद करने आगे बढ़ आते हैं। लोग बिना कुछ कहे भी इनका पूरा सम्मान करते हैं।

बुद्धिमान:
इस राशि के जातक अपने आस पास की दुनिया से अनजान होते हैं। वे दुनियादारी के बारे में कुछ नहीं जानते हैं। इतना होने के बाद भी वे इतने बुद्धिमान होते हैं कि जो भी मिलता है उससे सीखने की कोशिश जरूर करते हैं। कुछ न कुछ सीखना चाहते हैं। जो इन्हें पता नहीं होता है, जिसका कोई ज्ञान नहीं होता है उसमें दक्षता हासिल करने का प्रयास भी करने लगते हैं। उन्हें बहुत बुद्धिमान माना जाता है।

मेहनती:
उनके आस-पास के ज्यादातर लोग सोचते हैं कि सूअर सुस्त जीव हैं, लेकिन यह सच नहीं है। वे अपने कार्यों और विचारों के बारे में बहुत ही व्यावहारिक और सजग होते हैं। इतने सजग कि वे कुछ भी आसानी से कर सकते हैं। वे कोई भी काम करने के लिए रणनीति बनाते हैं और अपनी बनाई योजना पर अमल करके आसानी से कार्य पूरा कर सकते हैं।

कमजोरियां

अभिमानी:
अभिमान या घमंड, सूअर राशि में देखा जा सकता है। यह एक ऐसी कमी है, जो इस राशि के जातक में आम तौर पर नजर आ ही जाती है इनका रवैया बहुत ही अभिमानी होता है। ये मानसिक रूप से शक्तिशाली होते हैं, पूरी तरह समक्ष होते हैं। अपनी प्रबल मानसिकता इन्हें इतने ऊंचे शिखर पर बैठा देती है कि इन्हें आस पास का कोई भी इंसान नजर नहीं आता है। इतना अहम यह उन पर प्रतिकूल प्रभाव डालेगा क्योंकि वे जितना ऊंचा उठेंगे, वे उतने ही तेज गिरेंगे। उन्हें अपने बारे में परिदृश्य का पुनर्मूल्यांकन करने की आवश्यकता है।

जिद्दी:
वास्तविक जीवन में सूअर राशि के जातक बहुत दृढ़ माने जाते हैं क्योंकि वे खुद को परिपूर्ण और पर्याप्त मानते हैं। उन्हें लगता है कि ये सर्वगुण सम्पन्न होते हैं। वे न तो किसी को सुझाव देते हैं न ही सुझाव लेते हैं। वे हमेशा अपने मूल विचार पर टिके रहते हैं, टस से मस नहीं होते हैं।

अडिग मानसिकता:
सूअर राशि के जातक अपनी मर्जी के मालिक होते हैं। वे फैसला ले लेते हैं तो फिर बदलते नहीं है। निर्णय पर अडिग रहते हैं। खासतौर पर जब वे प्रेमसंबंध में होते हैं अपनी राय एक ही रखते हैँ। उनकी इतनी अडिगता अपनी मर्जी के देवता होते हैं। कोई भी निर्णय लेने के बाद वे आसानी से अपना विचार नहीं बदलते हैं, खासकर जब वे प्रेम संबंध में होते हैं। इस तरह की जिद्दी मानसिकता उनके मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके रिश्ते के लिए भी बहुत हानिकारक है।

बैनर लाइन: अपने व्यक्तित्व विशेषताओं और छिपी संभावनाओं के बारे में जानें।
प्रीमियम जन्मपत्री प्राप्त करें!


महिला राशि की मुर्गा: व्यक्तित्व की विशेषताएं

मुर्गा राशि की महिलाएं व्यावहारिक, नाजुक और देखभाल करने वाली होती हैं। वे पारिवारिक केंद्रित होती महिलाएं हैं जो अपने परिवार की बेहतरी, सुरक्षा और खुशी पर अपना ध्यान केंद्रित करती हैं। वे भावुक हैं और हमेशा पूर्णता प्राप्त करने की दिशा में दौड़ती हैं।

मुर्गा राशि की महिलाओं को सुंदर और व्यावहारिक माना जाता है। वे आम तौर पर नरम दिल वाली संवेदनशील महिलाएं होती हैं, जो पेशेवर और व्यक्तिगत जीवन दोनों में समान रूप से योगदान दे सकती हैं। वे पूर्णतावादी हैं, जो काम और जीवन संतुलन दोनों को खुद ही मैनेज कर सकती हैं।

ये महिलाएं उत्कृष्ट प्रबंधन कौशल रखने वाली होती हैं, इनकी मैनेजमेंट स्किल शानदार होती है। ये अपने लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित करना पसंद करते हैं, उन्हें प्राप्त करते हैं और लोगों को दिखाते हैं कि वे कितने सक्षम हैं।

खूबियां

मेहनती, शांत और वाकपटु
सरल और साद
बचत और बलिदान

कमजोरियां

पूर्णता की तलाश में
बच्चों की तरह मासूम
स्वार्थी और कठोर

विशेषज्ञों से बात करें और अपनी कुंडली को एक आने वाले संभावित साथी के साथ मिलाएं।


सूअर और मुर्गा राशि के बीच अनुकूलता

मुर्गा और सूअर राशि के जातकों की जोड़ी बेहद कामुक होती है। अगर इस जोड़े को अपनी दोस्ती बनाए रखनी है तो उन्हें आपस में समझ भी बरकरार रखनी होगी। दोनों को समझ के साथ और धैर्य रखकर संबंध को जारी रखना होगा। तभी जाकर वे आगे तक चल पाएंगे।

वे संवाद के मामले में बहुत कमजोर होते हैं। अपने आस पास का पर्यावरण हल्का करने के लिए उन्हें सूअर राशि के जातक के सहज स्वभाव पर निर्भर रहने की जरूरत होती है। ऐसा नहीं करने पर उनके बीच विवाद की स्थिति देखने को मिल सकती है, तर्क वितर्क का सामना करना पड़ सकता है। प्रेम के प्रति उनका समर्पण इस रिश्ते में चमत्कार कर सकता है। कुछ अलग कर सकता है।


सूअर जाति के पुरुष और मुर्गा जाति की मादा में प्यार

प्रेम संबंध में सूअर राशि के जातक जटिल या ज्यादा रोमांटिक संबंधों को महत्व नहीं देते हैं उन्हें पसंद नहीं करते हैं। उनके पास इस तरह के प्रेम संबंध की औपचारिकताओं को निभाने के लिए ऊर्जा नहीं होती है। ऊर्जा की कमी के कारण ही यह इन संबंधों से दूर रहना पसंद करते हैं। ये इस तरह के रोमांटिक संबंधों से दूर रहते हैं, वे नहीं जानते हैं कि अगर वे किसी रोमांटिक डेट पर जाते हैं तो उसे रोमांटिक कैसे बनाया जा सकता है। वे सीधे और वफादार साथी बनना चाहते हैं और अपने साथी से भी यही उम्मीद करते हैं।

मुर्गा राशि की महिलाएं मेहनती होती हैं और इसलिए संभोग के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखती हैं। वे एक प्यार भरे रिश्ते में जुडऩा तो पसंद करते हैं, लेकिन कैंडल लाइट डिनर जैसी औपचारिक प्रेम स्थितियों को ज्यादा पसंद नहीं करते हैं। वे एक दूसरे की देखभाल करके एक दूसरे के लिए रोमांटिक माहौल बना देते हैं।

एक सूअर राशि के पुरुष और एक मुर्गा राशि की महिलाएं एक साथ प्रेम और सद्भाव के साथ रह सकती हैं। वे बातचीत से हर मुश्किल का समाधान निकाल सकते हैं। वे दूसरों से सीख कर समझकर कमियों से पार पा लेते हैं। कमजोरियों को दूर कर लेते हैं। इससे संबंध सुचारू हो सकते हैं।

सूअर राशि में पैदा हुए लोग मुर्गा राशि की महिलाओं के लिए एक अच्छा साथी साबित हो सकते हैं। उनके पास एक बड़ी समझ है और एक लचीला रवैया होता है। वे बहुत जल्दी ही बदलाव लाने की इच्छा रखते है, इस तरह समाधान खोजते रहते हैं। उनका प्रगाढ़ और घनिष्ठ संबंध उन्हें इतना निकट ला सकता है कि जिससे वे आपस में अधिक समझ विकसित कर सकें।

आप अपने राशि चक्र को जांचे, कंपैटिबिलिटी स्कोर चेक करें!


मुर्गा राशि के पुरुष और सूअर राशि की महिला में प्यार

सूअर राशि के जातक सामाजिक प्राणी होते हैं। वे सार्वजनिक तौर पर समाज के बीच में समय बिताना पसंद करते हैं, यही वजह है कि वे अक्सर पार्टियों में मिल जाते हैं। वे तनाव और अराजकता से दूर रहना पसंद करते हैं। वे अपने संकल्प पर अडिग रहते हैं कि निष्कर्ष निकालने की दिशा में प्रयास करते हैं। वे खुद आनंद लेना चाहते हैं और कभी-कभी इस पर थोड़ा अधिक खर्च कर देते हैं।

जब निर्णय लेने की बात आती है तो वे बहुत प्रोफेशनल होते हैं। वे कुछ बड़े प्रोजेक्ट्स में शामिल होना चाहते हैं, बड़े प्रोजेक्ट्स का हिस्सा बनना चाहते हैं। वे सफलतापूर्वक अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते हैं और सफलता हासिल कर लेते हैं। ये अपनी संपूर्णता के लिए बहुत सम्मान करते हैं और एक बार निर्णय लेने के बाद हमेशा दूसरों की नहीं सुनते हैं।

यद्यपि दोनों को कई हालातों में बीच का रास्ता अपनाना होगा, समझौता करना पड़ सकता है। दरअसल इन दोनों के विचारों में अंतर नजर आ सकता है। इनके सोचने का तरीका, विचारों का दृष्टिकोण अलग अलग हो सकता है। इनकी सोच में अंतर हो सकता है। सूअर राशि के पुरुषों के लिए भावनाएं समस्या का कारण बन सकती हैं और मुर्गा राशि की महिलाएं बौद्धिक और विश्लेषणात्मक होती है। सूअर हमेशा कोई भी निर्णय लेते समय आराम से एक विचार करते हैं, जल्दबाजी नहीं करते हैं।

वे एक साथ क्वालिटी टाइम बिता सकते हैं और एक-दूसरे की कंपनी का आनंद ले सकते हैं, जब वे एक दूसरे को थोड़ा स्पेस देते हैं, थोड़ी आजादी देते हैं तो वे चीजों को पहले से ही व्यवस्थित कर लेते हैं।

इस जोड़े की प्रेम संगत को प्यार और समझ से बेहतर बनाया जा सकता है। रात का समय और पति-पत्नी के संबंध इसे और भी शिखर पर ले जात सकते हैं। इन दोनों के बीच मतभेद तब होंगे जब मुर्गा अपनी इस रिश्ते पर खुद का नियंत्रण थोपने की कोशिश करेगा, अपनी मनमर्जी चलाएगा, सूअर राशि की महिला को यह कतई पसंद नहीं आएगा।

मुझे अपना आदर्श साथी कब मिलेगा? विशेषज्ञों से जानिए


सूअर राशि के जातक का किसके साथ तालमेल बैठेगा?

सूअर नर के लिए सर्वोत्तम संगत

  • अगर एक विवाह संबंध की बात करें तो सूअर राशि के जातक का आदर्श मेल एक बाघ राशि का जातक के साथ हो सकता है। उनके पास वैवाहिक जीवन की कठिनाइयों से निपटने के लिए आवश्यक धैर्य और समझ मौजूद होती है।
  • एक सूअर राशि के जातक और एक खरगोश राशि के जातक, दोनों कोमल और विचारशील व्यक्तित्व होते हैं। ऐसा लगता है कि ये दोनों अपने जन्म से पहले ही एक दूसरे के लिए बने हैं। वे एक-दूसरे की खूब तारीफ करते हैं।
  • सूअर राशि के जातक और मुर्गा राशि के जातक का वैवाहिक खुशियों से भरा रहता है। इनका वैवाहिक जीवन खूब फलता फूलता है। उन्हें अपने पेशेवर और व्यक्तिगत जीवन के बीच संतुलन बनाने की सामान्य समझ होती है।

सूअर राशि की महिलाओं के सर्वोच्च संगत

  • एक सूअर राशि के जातक और एक अश्व (घोड़ा) राशि के जातकों की सोचना समझने की क्षमता एक जैसी होती है। वे अपने संबंधों में अपने रिश्ते के प्रति समर्पित रहते हैं। एक अच्छा परिवार बनाने के लिए वे हमेशा प्रयास करते रहते हैं। वे पूरी कोशिश करते हैं कि परिवार सुंदर और समृद्ध बने।
  • विवाहित जीवन की चुनौतियों को संभालने के लिए एक सूअर राशि के जातक के लिए भेड़ राशि का जातक सबसे उपयुक्त होता है। ये एक दूसरे के पूरक होते हैं। ये अपने रास्ते में आने वाली चुनौतियों को संभाल लेते हैं, समाधान हासिल कर लेते हैं। इनके पास समस्याओं का समाधान हासिल करने के लिए भरपूर रचनात्मकता होती है।
  • इसी तरह एक सूअर राशि का जातक और एक श्वान (कुत्ता) राशि का जात शांति से अपने प्रेम संबंध को आगे बढ़ा सकते हैं। हो सकता है कि उनमें कई अंतर हों, लेकिन इससे उनकी एक-दूसरे को और जानने की उत्सुकता बढ़ जाती है।

मुर्गा राशि के जातक को किससे शादी करनी चाहिए?

मुर्गा पुरुषों के लिए सर्वश्रेष्ठ मैच

मुर्गा और बाघ राशि के जातक के जीवन में रुझान, रुचियां एक जैसी होती हैं। उनके पास कई सामान्य और एक जैसी विशेषताएं होती हैं। ऐसे में इन्हें एक दूसरे का पूरक भी कहा जाता है। यह उन्हें शांति के साथ प्यार करने और आगे बढ़ने में मदद करता है।

वहीं मुर्गा और बैल राशि के जातक एक दूसरे के प्रति सम्मान रखते हैं, इसी सम्मान के साथ बंधन में बंधे रहने के महत्व को समझते हैं। यह उन्हें एक सामंजस्यपूर्ण जीवन बिताने में मदद करता है। वह स्वभाव से बहुत परिपक्व और कोमल मन वाले व्यक्ति होते हैं।

इसके साथ ही सर्प राशि के जातक, मुर्गा राशि के जातक के मन को समझ सकते हैं, ऐसे में ये दोनों ही एक दूसरे लिए उपयुक्त साथी साबित हो सकते हैं।

मुर्गा राशि की महिलाओं के लिए सर्वश्रेष्ठ मैच

बैल और मुर्गा राशि के जातक की सामान्य विशेषताएं एक जैसी होती हैं। उनके लक्ष्य भी एक से ही होते हैं, ऐसे में अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए ये एक दूसरे को सहयोग करते हैं।

ईमानदारी सांप और मुर्गा राशि के जातक के रिश्ते की कुंजी होती है। एक समान विशेषताओं के साथ उनकी उच्च बुद्धि और शानदार क्षमता एक साथ सामंजस्यपूर्ण जीवन जीने के लिए पर्याप्त साबित हो सकती है।

मुर्गा राशि के जातक और ड्रैगन राशि के जातक के बीच आशावादी और वफादार रवैया उनके खुशहाल रिश्ते की कुंजी साबित हो सकता है। ड्रैगन राशि के पुरुष अपने परिवार की देखभाल करने में अत्यधिक रुचि लेते हैं, जिससे उनकी जीवन साथी में सुरक्षा की भावना पैदा होती है।


कौन सी चीनी राशि का साथ मेल नहीं हो सकता है

नीचे दी गई राशियां ऐसी राशियां हैं जिनके जातक एक पल भी साथ नहीं रह सकते हैं :
राशिबेमेल राशियां
चूहा – घोड़ा, मुर्गा।
बैल – बाघ, ड्रैगन, घोड़ा, भेड़।
बाघ – बैल, बाघ, सांप, बंदर।
खरगोश – सांप, मुर्गा।
ड्रैगन – बैल, भेड़, कुत्ता।
सांप – बाघ, खरगोश, सांप, भेड़, सुअर।
घोड़ा – चूहा, बैल, मुर्गा, घोड़ा।
भेड़ – बैल, बाघ, कुत्ता।
बंदर – बाघ, सुअर।
मुर्गा – चूहा, खरगोश, घोड़ा, मुर्गा, कुत्ता।
कुत्ता – ड्रैगन, भेड़, मुर्गा।
सुअर – सांप, बंदर।