छठे भाव में बुध (Mercury), क्या होगा जातक के जीवन में असर

सूर्य के सबसे निकट नजदीक है बुध ग्रह, यह ग्रह आपकी आधी परेशानियों को पल भर में गायब कर सकता है। सबसे छोटा ग्रह आपको जीवन की किसी भी चुनौती से निपटने के लिए संवेदनशील, बुद्धिमान और चतुर बनाता है। बुध के कारण जातक अपनी संवाद क्षमता यानी बातचीत करने के कौशल को सुधार सकता हैं। अपने संवाद कौशल को विकसित करके महान व्यक्तित्व भी बन सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ अगर बुध छठे भाव में होता है तो आपकी विपरित परिस्थितियों का सामना करने को मिल सकता है। बुध के लिए रोग का घर बरमूडा ट्राएंगल जैसा होता है। इस घर में होने के कारण जातक अपनी सारी ताकत खो देता है। यह जातक के जीवन पर उल्टा असर डालता है। वहीं दूसरी तरफ यह संयोग व्यक्ति के जीवन को मिलेजुले परिणाम दे सकता है। इसलिए अगर बुध छठे भाव में हैं तो मुसीबतों से जूझने के लिए तैयार हो जाएं। आप ध्यान से पढ़ें कि जब बुध छठे भाव में हो तो ज्योतिष विशेषज्ञ क्या कहते हैं।


यदि बुध छठे भाव में हो तो क्या होगा?

छठे भाव के बुध वाले व्यक्ति को मानसिक शांति नहीं मिलेगी। वे छोटी छोटी बातों में तनाव में आ सकते हैं, उन्हें गुस्सा शांत करने में अधिक समय लग सकता है। जुबानी बहस या वाद विवाद की स्थिति पैदा हो सकती है। अनावश्यक झगड़े हो सकते हैं। छठा भाव कर्ज या ऋण का भाव माना जाता है, ऐसे में आपके पास पैसे का कर्ज हो सकता है, और यह आपको अवैध या गैरकानूनी मामलों में फंसा सकता है। आप अपने कॅरियर को लेकर छठे भाव में बुध से कुछ मदद की उम्मीद कर सकते हैं। आप अपनी याददाश्त को सुधार सकेंगे। चीजों को याद रखना आपके लिए थोड़ा आसान होगा। अगर बुध पर शुभ ग्रह बृहस्पति की नजर है तो यह आपको अनुकूल परिणाम प्रदान करेगा। वहीं दूसरी तरफ यहां आपके लिए स्वास्थ्य सबंधी परेशानी भी पैदा कर सकता है।

क्या आपकी कुंडली में बुध अनुकूल है?
जन्मपत्री के द्वारा जानें 

छठे भाव में बुध का प्रभाव

  • बेहतर संवाद
  • एटीट्यूड
  • मानसिक ढृढता

छठे भाव में बुध का व्यक्तित्व पर प्रभाव

छठे भाव में बुध का मतलब है कि आपकी बौद्धिक क्षमता बेहतर हो सकती है। आप कड़े फैसले लेने में सक्षम होंगे। कुछ हद तक आलसी भी हो सकते हैं। आप संवाद के दौरान दूसरों को चोट पहुंच सकता है, आपके कठोर शब्द दूसरे लोगों को ठेस पहुंचाने का कारण बनेंगे। अगर आपका बुध मजबूत स्थिति में है तो यह आपको ऐसा करने से रोक सकता है। आपके पास अत्यधिक जिम्मेदारियां होगी, यह आपके तनाव को अधिक करने का सबब बनेंगी। इस प्रकार, आप अपनी नौकरी या व्यवसाय को बदलने की योजना बना सकते हैं। सभी बाधाओं के बावजूद, आप दूसरों की मदद करने में पीछे नहीं हटेंगे। इसी वजह से दूसरे लोग आपके व्यवहार और स्वभाव की दिल खोलकर तारीफ करेंगे। आप सम्मान अर्जित करेंगे।


छठे भाव में बुध का आपके विवाह पर प्रभाव

छठे भाव के बुध वाले जातकों के वैवाहिक संबंधों में लिए यह सही समय है। आप अपने जीवनसाथी के साथ बेहतर संबंध बना सकते हैं। रात में आपको अत्यधिक अच्छा समय बिताने को मिलेगा। यदि बुध ऋण भाव में है, तो आपको अपने वैवाहिक जीवन में सामंजस्य स्थापित करने में सामान्य से अधिक समय लग सकता है। यदि किसी को डेट कर रहे हैं तो वह आपका हमसफर बन सकता है। बुध के कारण आपके स्वभाव में चुलबुलापन या शरारती स्वभाव हो सकता है। अगर आप दोनों के बीच कोई तीसरा व्यक्ति आता है तो आपका रिश्ता जल्द ही टूटने की कगार पर पहुंच जाएगा।


छठे भाव में बुध आपके कॅरियर पर का प्रभाव

बुध के छठे भाव में होने का मतलब है कि आपके लिए कॅरियर में सफलता हासिल करना आसान नहीं होगा। आप आधुनिक तकनीकों का उपयोग करके अपने कॅरियर को आगे बढ़ा सकते हैं। आप अक्सर निराश हो जाते हैं और आपके मन में नकारात्मक विचार आ जाते हैं, यह आपको आगे बढऩे से रोकते हैं। आप अगर एक बार आगे बढऩा शुरू कर देते हैं तो फिर आपको रोकने वाला कोई नहीं होता है। आपको सकारात्मक परिणाम मिलने लगते हैं। जहां तक कॅरियर क्षेत्र की बात है तो आप आप डिजिटल मार्केटिंग या आईटी क्षेत्र में कॅरियर ग्रोथ पा सकते हैं।
यदि बुध छठे भाव में शुक्र के साथ है, तो यह आपको डांसर या संगीतकार बनने में मदद कर सकता है। वहीं, यदि बुध अपने शत्रु चंद्रमा से जुड़ा हो तो कॅरियर में बड़े अवसर आपके हाथ से फिसल सकते हैं।


समापन

अब हमारे पास छठे स्थान पर बैठे बुध की एक स्पष्ट तस्वीर है। बुध और छठे भाव की यह युति आपके जीवन में उतार-चढ़ाव ला सकती है। आपको अपने पेशेवर जीवन में बुध का सहयोग प्राप्त हो सकता है लेकिन आपके वैवाहिक संबंधों के संबंध में संतोषजनक परिणाम नहीं मिल सकेंगे। आपको अपनी हताशा को संभालने की, नियंत्रित करने की जरूर है। यह आपको अपने कॅरियर में स्थिर प्रगति करने से रोक सकती है। अपने जीवन के सभी क्षेत्रों में अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए छठे घर में बुध के दुष्प्रभाव को कम करने के लिए,  एक विशेषज्ञ ज्योतिषी से बात करें।