मीन और वृषभ राशि अनुकूलता

एस्ट्रोलॉजी दो लोगों के रिश्ते में कंपेशन, काइंडनेस और इमोशनल कंपेटिबिलिटी को मापने का एक पैमाना हो सकता है। यही कारण है है कि एस्ट्रोलॉजी में बर्थ साइन और असेंडेंट साइन का विशेष महत्व माना गया है। किसी व्यक्ति की राशि का प्रभाव उसके बिहेवियर और नेचर पर देखने को मिलता है। ऐसे में इसके जरिए दो राशि के लोगों के बीच की कंपेटिबिलिटी का आकलन आसानी से हो सकता है। हम जानते हैं कि किसी भी रिश्ते का भविष्य दो लोगों के व्यवहार पर टिका हुआ रहता है। हम यहां मीन यानी की जल तत्व की राशि का वृषभ यानी कि पृथ्वी तत्व की राशि के साथ मैच करने की कोशिश करेंगे। देखते हैं दोनों के बीच अनुकूलता का स्तर क्या है।

मीन

19 Feb - 20 Mar

वृषभ राशि

21 Apr - 21 May
डीप अंडरस्टैंडिंग
इमोशनल
फ्रेंडली
स्पिरिचुएल
आर्टिस्टिक, क्रिएटिव और ऑनेस्ट
प्रैक्टिकल
आर्टिस्टिक
स्टेबल
डिपेंडेबल
लॉयल

मीन – वृषभ लव कंपेटिबिलिटी

मीन और वृषभ राशि वालों की पार्टनरशिप एक दूसरे की आपसी अंडरस्टैंडिंग पर आधारित है। दोनों रिश्ते को लेकर मन में डरे हुए रहते हैं, वे एक-दूसरे से खुद को दूर नहीं जाने देते हैं। ऐसे में धीरे-धीरे एक दूसरे के प्रति उनका लगाव काफी बढ़ जाता है। देखते हैं दोनों के बीच की लव कंपेटेबिलिटी-

  • दोनों के रिश्ते में एक स्पार्क होता है, जिससे आपसी अंडरस्टैंडिंग भी बेहतर होती है।
  • नेचर में कई समानताओं के कारण वे आसानी से आपस में फ्रेंड बन जाते हैं। वे बिजी लाइफ से दूर होकर अपनी दुनिया में मस्तर रहना चाहते
  • मीन और वृषभ में कई प्रायरिटिज कॉमन होती हैं। वे गैदरिंग से दूर एक दूसरे के साथ रहना पसंद करते हैं।
  • यह जोड़ी एक दूसरे के ध्यान अट्रैक्ट करने का काम करती है। मीन को वृषभ का इंटेलिजेंस तो वृषभ को मीन की सिम्पलिसिटी और संयमित व्यवहार पसंद आता है।

मीन – वृषभ संबंधों के फायदे

इस लव मैच की अनुकूलता के बारे में बात करें तो वृषभ राशि वाले सिंपल लाइफ पसंद करने साथ ही लाइफ के प्रति प्रैक्टिकल अप्रोच वाले होते हैं, जबकि मीन राशि वाले हमेशा सपनों की दुनिया में रहते हैं। कई बार उनके विचारों में कोई क्लैरिटी नहीं होती है। आइए जानते हैं इनके संबंधों के फायदे

  • इमोशनल मीन राशि वाले निश्चित रूप से हार्ड वर्किंग वृषभ को अपने कॅरियर और पैसों की कीमत सीखा सकते हैं। दूसरी ओर वृषभ जातक मीन जातकों को अपनी बातें बेहतर ढंग से प्रेजेंट करने के तरीके सीखा सकते हैं।
  • कॉमन गोल पर वृषभ चीजों में बदलाव का प्रयास तभी करते हैं, जब वे उनके हाथ से बाहर हो जाती हैं।
  • मीन और वृषभ कई मामलों में एक दूसरे से सेटिस्फाइड हो सकते हैं। चैलेंजेज के बावजूद अपने लक्ष्य से पीछे नहीं हटते और एक दूसरे का सपोर्ट करते हैं।
  • लाइफ में दोनों स्टेबलिटी को इम्पोर्टेंस देते हैं और मुश्किल निर्णय लेने की बात हो तो दोनों ही समझ और धैर्य के साथ बातों को एक निर्णय तक पहुंचाने के लिए काम करते हैं।

मीन – वृषभ संबंधों के नुकसान

एस्ट्रोलॉजी में मीन और वृषभ दोनों ही काफी हद तक एक दूसरे के लिए कंपीटेबल माना जा सकता है। उन्हें जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। रिश्ते भी इस प्रकार से किसी के लिए फायदा या नुकसान पहुंचा सकते हैं। जब दो लोग किसी रिश्ते में बंधते हैं, तब दोनों एक-दूसरे के नेगेटिव विचारों को भी जानते हैं। देखते हैं दोनों के बीच के नुकसान-

  • मीन और वृषभ दोनों ही जिद्दी और अपने तरीके से सेट होने वाले लोग हैं। बदलते सिचुएशन में एडजस्ट होने से वे इंकार भी कर सकते हैं। कई बार इसका नुकसान संबंधों को उठाना पड़ता है।
  • मीन और वृषभ राशि वाले फ्रीडम लवर हैं और अपनी शर्त पर लाइफ को एंजॉय करना चाहते हैं। वे किसी भी मामले में कंप्रोमाइज करने को तैयार नहीं होते हैं। मीन कई बार किसी विवाद को बहुत लंबा खींच लेते हैं।
  • डिबेट के दौरान दोनों ही राशि के लोग अपनी अपनी भावनाओं को एक्सप्रेस नहीं कर पाते। ऐसे में छोटी-मोटी बातों पर भी बड़ा रिएक्शन दे देते हैं। इससे रिश्ते की मजबूत डोर कमजोर होती है।
  • दोनों को ही अपनी हर बात खुलकर कहनी होती है, क्योंकि वे आंखों के इशारे नहीं समझ पाते, नतीजतन रिश्तों में टेंशन बढ़ सकता है।

मीन – वृषभ लव और मैरिज कंपेटिबिलिटी

शादी एक पवित्र बंधन है। जब मीन और वृषभ राशि के लोग इस बंधन में बंधते हैं, तो एक-दूसरे से ज्यादा इस बंधन का सम्मान करते हैं। दोनों रिश्ते में लॉयल बने रहना चाहते हैं। देखते हैं शादी के बाद इनके जीवन में अनुकूलता किस हद तक रहती है-

  • मीन और वृषभ आपसी रिलेशन में एक दूसरे के प्रति मंत्र मुग्ध होते हैं। वृषभ हमेशा अपने पार्टनर के लिए रोमांटिक माहौल तैयार करने में लगे रहते हैं, तो मीन जातक वृषभ के लिए ऑनलाइन खरीदारी में व्यस्त होते हैं।
  • वृषभ स्थिर स्वभाव का व्यक्ति है जिसे अधिक दिखावा पसंद नहीं होता है, दूसरी ओर मीन जातक इसके ठीक विपरीत होते हैं, ऐसे में विवाह के बाद इनके बीच लाइफ स्टाइल को लेकर थोड़ी खटपट की संभावना है।
  • मीन और वृषभ राशि की मैरिड लाइफ खुशहाल हो सकती है क्योंकि फैमिली को लेकर दोनों गंभीर रहते हैं।
  • मीन बच्चों की बहुत अच्छी देखभाल करते हैं, हालांकि वृषभ इस मामले में थोड़े लापरवाह होते हैं।
  • अर्थ और वाटर का संयोजन होने के कारण दोनों के बीच आपसी सांमजस्य बेहतर होता है।

मीन – वृषभ सेक्सुअल कंपेटिबिलटी

मीन और वृषभ दो नेचुरल पार्टनर तो नहीं, फिजिकल रिलेशन के प्रति इनमें झुकाव देखा जा सकता है, जो काफी अट्रैक्टिव और लुभावना हो सकता है। देखते हैं मीन और वृषभ राशि के बीच सेक्सुअल कंपेटेबिलिटी का स्तर क्या है

  • मीन और वृषभ के बीच सेक्सुअल रिलेशन काफी अनुकूल और आकर्षक हो सकते हैं। उनके बीच का इरोटिक कॉन्टेक्ट काफी वंडरफुल है।
  • फिजिकल होने के दौरान दोनों अलग – अलग चीजें करना पसंद करते है। इनके संबंधों में सदैव नयापन बना रहता है।
  • मीन और वृषभ के बीच के संबंध फिजिकल और इंटेलेक्चुअल भी होते हैं। सेक्स के दौरान वृषभ अधिक सहज और रोमांटिक हो सकते हैं, वहीं मीन जातक सेक्सुअल रिलेशन के दौरान कभी – कभी मस्ती और रोमांस भी पसंद करते हैं।
  • संबंधों के दौरान वृषभ एक्टिव पार्टनर का रोल प्ले करता है वहीं मीन आकर्षण और सुंदरता बनाए रखते हैं।
  • फिजिकली दोनों एक दूसरे की नीड को बेहतर ढंग से समझ पाते हैं और उनकी पूर्ति कर पाते है।

कुल मिलाकर देखें तो मीन और वृषभ राशि वाले जातक एक एवरेज जोड़ी ही नजर आते हैं, लेकिन यदि वे अपने स्वभाव पर कंट्रोल करें और चीजों को एक दूसरे के नजरिए से समझने का प्रयास करें तो वे एक आदर्श जोड़ी साबित हो सकते हैं।

Your Zodiac Sign

Your Partner's Zodiac Sign