द एम्प्रेस (The Empress Tarot) अपराइट और रिवर्स


द एम्प्रेस टैरो का अर्थ

द एम्प्रेस टैरो कार्ड डेक के मदर कार्ड के रूप में जाना जाता है। यह मेजर अरकाना का तीसरा कार्ड है। यह कार्ड एक मां की तरह दूसरों के प्रति प्यार को दर्शाता है। यह प्रकृति, मन की तरंगों और शारीरिक गतिविधि से जुड़ा कार्ड होता है।

एम्प्रेस या महारानी, एक सशक्त मातृत्व वाला भाव होता है। उनकी मौजूदगी ही काफी प्रभावित करती है, जाे परिवार, दोस्ती, संबंधों में शांति और सौहार्द बनाए रखती हैं।

तत्व- अग्नि

ज्योतिष राशि– वृषभ

ग्रह– शुक्र

दिनांक: 16 अक्टूबर से 17 नवंबर

द एम्प्रेस टैरो अपराइट – उर्वरता, प्रचुरता, नारीत्व, पोषण

द इम्प्रेस टैरो रिवर्स– अकेलापन, शून्यता, निर्भरता

अधिक जाननेके लिए विशेषज्ञ ज्योतिषी से सलाह लें


द एम्प्रेस टैरो अपराइट (The Empress Upright )

यह कार्ड निकट संबंधों के प्रति अपने समर्पण को दर्शाता है। मातृत्व के गुणों को बताता है। इन गुणों में सुंदरता, कामुकता, जीवन शक्ति, कलात्मक अभिव्यक्ति, पालन- पोषण जैसे गुणों का समावेश है। यह महिलाओं व पुरुषों दोनों को ही सौहार्द भाव से परिपूर्ण करता है। कार्ड आपको सहजता के साथ बात करने का संदेश देता है। अपने जीवन को सुंदर बनाने के लिए प्रेरित करता है। किसी भी बात को महसूस करने के लिए जो पांच इंद्रियां हैं, उनका भरपूर इस्तेमाल करने, उन्हें जागृत करने के लिए कहता है। इनकी संवेदनाओं को महसूस करें, ये आपको संतुष्टि खुशी के मार्ग तक ले जाएगी।

अपने आप को खुश रखें। स्पा करवाएं, मसाज करवाएं, बाहर जाएं, अपने साथी के साथ समय बिताएं। अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए नए नए कलात्मक तरीके ईजाद करें। चित्र, कविता, रंगमंच या कोई और तरीका, जो आपको पसंद हो, उसे अपनाकर अपनी बात कहें। यह नए शौक को पूरा करने के लिए सही समय है।

आज ही ज्योतिषी से बात करें!


द इम्प्रेस टैरो रिवर्स (The Empress Reverse )

यह कार्ड आपको प्राथमिकता से आत्म-प्रेम और आत्म-देखभाल करने का आग्रह करता है।

यह कार्ड आपसे आत्म केन्द्रित हाेने के लिए कहता है। खासतौर पर तब जब आप खुद की उपेक्षा करते हुए किसी अन्य व्यक्ति की भावनात्मक या वित्तीय जरूरतों पर बहुत अधिक ध्यान केंद्रित करके स्वयं पर नियंत्रण गंवा रहे है। ऐसे में जरूरी है कि अपनी प्राथमिकताओं को बदलें। दिन भर में एक बार टहलने जाएं। अपने लिए कुछ नया करने की सोचें। अपना ध्यान रखें और फिर दूसरों की मदद के लिए आगे बढ़ें। अपने रिश्तों में मातृत्व की भावना को अनुभव करेंगे। किसी पर भी निर्भर होने से बचें।

यह समय है संबंधों में सोच के तरीके को बदलने को। मसलन बच्चों से मां की बजाय अब दोस्त जैसे संबंध रखें। विश्वास, स्वतंत्रता का भाव पैदा होने दें।

कुल मिलाकर इस कार्ड में स्त्री शक्ति, प्रजनन क्षमता, बहुतायत, पोषण, घर और परिवार का प्यार दर्शाया गया है। इसे विशेष रूप से आशावादी कार्ड माना जाता है।

Talk to an Astrologer Today!