मिथुन और वृषभ राशि अनुकूलता

क्या आपने कभी सोचा है? आखिर ऐसा क्यों हैं किसी व्यक्ति के साथ हमारे संबंध बहुत अच्छे रहते हैं और किसी के साथ उतने अच्छे नहीं। कुछ रिश्ते धीरे-धीरे पनपते हैं और कुछ हमारे चाहते हुए भी आगे नहीं बढ़ पाते हैं। दरअसल इन सभी के पीछे ज्योतिषीय सूत्र काम करते हैं। एस्ट्रोलॉजी की 12 राशियां किसी ना किसी एलिमेंट का प्रतिनिधित्व करती है। अग्नि, वायु, जल और पृथ्वी तत्व की ये राशियां हमारी पर्सनेलिटी का निर्धारण करती हैं और हमारी दोस्ती उसी से हो पाती है, जो हमारे मूल स्वभाव के अनुसार हमें स्वीकार करें। एस्ट्रोलॉजी के आधार पर हम मिथुन और वृषभ (Mithun & Vrishabha) के बीच कंपेटेबिलिटी का पैमाना जानने की कोशिश करेंगे। दोनों ही अलग-अलग तत्व की राशियां है, लेकिन कैसी होगी दोनों के बीच की अनुकूलता, जानिए

ग्रकिस राशि के जातक के साथ आप अनुकूल रहेंगे अभी पाइए अनुकूलता रिपोर्ट फ्री......

मिथुन

22 May - 21 Jun

वृषभ राशि

21 Apr - 21 May
टैलेंटेड
क्यूरियस
डिप्लोमेटिक
उत्साही
लाॅजिकल
मजाकिया
बहुमुखी
प्रैक्टिकल
आर्टिस्टिक
स्टेबल
रिलायबेल
उदार
लाॅयल
पक्षपातपूर्ण रवैया

मिथुन – वृषभ लव कंपेटेबिलिटी

आकर्षक व्यक्तित्व के साथ मिथुन वृषभ पर अपना जादू चलाने में कामयाब होते हैं। हालांकि वृषभ के लिए मिथुन कई बार परेशानी पैदा कर देते हैं। इन दोनों राशियों को अपनी इच्छा और जरूरतों के बीच एक संतुलन बनाने की जरूरत है। यदि वे दोनों अपनी ओर से प्रयास करते हैं तो वे दोनों एक स्थिर और खुशहाल युगल हो सकते हैं।

  • दोनों यदि अपने दायरे से बाहर निकलें, तो जीवन जीने के नए, दिलचस्प और रोमांचक तरीके आजमा सकते हैं।
  • यदि मिथुन-वृषभ रिलेशनशिप में धीरे बढ़ेंगे, तो एक-दूसरों को समझ पाएंगे।
  • मिथुन,  वृषभ के सामाजिक दायरे को फैलाने और लोगों के साथ आनंद लेना सिखा सकते हैं।
  • मिथुन के चंचल मन को वृषभ अपनी स्थिरता से प्रेरित कर सकता है, वहीं मिथुन वृषभ के जिद्दी स्वभाव को सरल बनाकर उन्हें नए तरीके से सोचने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

मीन राशि में चंद्रमा का प्रभाव क्या आपके जीवन को प्रभावित करेगा अभी अपनी वार्षिक रिपोर्ट खंगाले बिल्कुल फ्री…

मिथुन – वृषभ संबंधों के फायदे

वैसे देखा जाए तो मिथुन और वृषभ राशि के लॉर्ड्स आपस में मित्र हैं लेकिन फिर भी इन दोनों राशियों के लोगों की पर्सनेलिटी में बहुत डिफरेंस है। कभी-कभी एक-दूसरे के साथ इनका सामंजस्य नहीं बैठ पाता है। आइए जानते हैं मिथुन और वृषभ संबंधों के कुछ बिंदु-

  • मिथुन- वृषभ दोनों ही जीवनभर युवा और उत्साही बने रहते हैं।
  • मिथुन परिवर्तनशील राशि है और वृषभ स्थिर। दोनों एक-दूसरे के गुणों को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं।
  • ये दोनों लोग यदि अपने मतभेदों को भूल जाएं, तो इनका रिश्ता बेहद मजबूत हो सकता है।
  • मिथुन जीवंत रहते हैं और वृषभ की जिंदगी को उत्साह से भर देते हैं। वृषभ भी मिथुन की कंपनी में खुश रहते हैं।

क्या मीन राशि के जातकों की तरह ही बीतेगा आपका भी जीवन जानिए अपनी जन्मपत्री एकदम फ्री…

मिथुन – वृषभ संबंधों के नुकसान

वृषभ जीवन में सदैव स्थिरता बनाए रखने का प्रयास करते हैं। वृषभ बहुत शांत होते हैं और उनके मन में एक असीम शांति होती है। दूसरी ओर मिथुन स्थिरता खो देते हैं। मिथुन ज्यादातर बेचैन प्रकृति के होते हैं। यदि वृषभ, मिथुन से समझौता करना सीख लें और मिथुन वृषभ से स्थिरता सीखें तो संबंध अच्छे हो सकते हैं। फिर भी दोनों के बीच कुछ मुश्किलें तो हैं-

  • मिथुन का मजेदार और उत्साही स्वभाव कभी-कभी वृषभ के लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है।
  • दोनों अपोजिट एलिमेंट्स है, इसलिए कई बार रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए दोनों में से कोई भी जोर-आजमाइश नहीं करता है।
  • मिथुन, वृषभ को लापरवाह लगते हैं। वहीं वृषभ का एक जगह पर बैठे रहना मिथुन को नहीं सुहाता है।

क्या आपकी आय में भी होने वाली है बढ़ोत्तरी अभी अपनी वित्तीय रिपोर्ट प्राप्त करें….

मिथुन – वृषभ मैरिज कंपेटेबिलिटी

जब जमीन से जुड़े वृषभ और हवा में उड़ने वाले मिथुन से शादी के लिए तैयार होते हैं, तो दोनों के रिश्ते के भविष्य को जान लेना बेहद जरूरी होता है। क्या मिथुन – वृषभ शादी के बाद एक सुखी और आनंदमयी जीवन बिता पाएंगे? ऐसे ही कई सवालों का जवाब मिथुन – वृषभ मैरिज कंपेटेबिलिटी से जाना जा सकता है-

  • वृषभ और मिथुन की मैरिड लाइफ सक्सेसफुल हो सकती है, यदि दोनों एक-दूसरे के लिए लॉयल बने रहें।
  • मिथुन, कई बार वृषभ के साहस की तारीफ करते हैं और उनके करीब होना चाहते हैं।
  • मिथुन का चंचल अंदाज कई बार वृषभ को अपनी सीमा से बाहर आने में मदद करता है।
  • वृषभ को मिथुन का हास्य और कॉन्फिडेंस अच्छा लगता है। मिथुन वृषभ की विश्वसनीयता की तारीफ करता है।

कुंडली के नकारात्मक दोषों से छुटकारा पाने के लिए अभी हमारे विशेषज्ञों से बात करें, पहला कॉल बिल्कुल फ्री..

मिथुन – वृषभ सेक्सुअल रिलेशनशिप

प्रेम अथवा वैवाहिक जीवन में सेक्सुअल रिलेशनशिप का विशेष महत्व है। इससे रिश्ता मजबूत होता है। आइए हम जानते हैं मिथुन – वृषभ सेक्सुअल रिलेशन कितना कारगर हो सकता है।

  • मिथुन और वृषभ बेडरूम में एक बहुत अच्छी तरह तालमेल बैठा सकते हैं, लेकिन वे दोनों अपनी खुशी के लिए लिमिट क्रॉस करना जानते हैं।
  • हालांकि कई बार बेडरूम में मिथुन को महसूस होता है कि वृषभ बहुत मांग कर रहे हैं, वहीं वृषभ को लगेगा कि मिथुन जितनी बातें करते हैं उतना काम नहीं करते हैं।
  • जहां वृषभ को फोरप्ले के माध्यम से धीमी गति से आगे बढ़ाने में मजा आता है, वहीं मिथुन को धीमी गति पसंद नहीं।
  • जब मिथुन और वृषभ रोमांटिक माहौल तैयार करते हैं, तो मिथुन बातचीत पर अधिक ध्यान केंद्रित करते हैं, जबकि वृषभ को टच और फिजिकल रिलेशनशिप पसंद होती है।

वृषभ और मिथुन को अपने संबंधों को सुचारू रूप से चलाए रखने के लिए मानसिक रूप से मजबूत होने की आवश्यकता है। यदि वे ऐसा करने में सक्षम है तो वृषभ – मिथुन की जोड़ी साथ मिलकर कुछ भी हासिल कर सकती है। हालांकि मिथुन – वृषभ संबंध कई बार पहेली के रूप में जटिल होते हैं और इनके रिश्ते किसी पहाड़ी रास्ते की तरह उबड़ – खाबड़ और उतार – चढ़ाव से भरे हो सकते हैं।

आपके लिए आया है रिश्ता? हां करने से पहले अपने साथी के साथ कुंडली का मिलान कीजिए…

Your Zodiac Sign

Your Partner's Zodiac Sign