धनु राशि के संबंध: दोस्त और दुश्मन राशियां कौन सी हैं?

अगर हम ईमानदार से बात करें तो इस दुनिया में प्रत्येक व्यक्ति का कोई ना कोई दुश्मन होता हैं। जीवन में शत्रु का होना अच्छी बात तो नहीं कही जा सकती, मगर फिर भी इसका ध्यान रखना बहुत ज्यादा जरूरी होता है। वास्तव में हम अपनी जिंदगी में चाहें या न चाहें, कुछ व्यक्ति हमारे दुश्मन बन ही जाते हैं। ऐसे में यदि हम चाहते हैं कि ये दुश्मनी जैसी परिस्थितियां हमारी जिंदगी से दूर रहें, तो ऐसे में इस बात की जानकारी रखना बहुत ही जरूरी होता है कि धनु राशि वालों की दोस्त और दुश्मन राशियां कौन-सी हैं।

बिल्कुल इसी तरीके से अपने दोस्तों को हमेशा करीब रखना बहुत ही जरूरी होता है। सबसे पहले तो हमें यह जान लेना चाहिए कि किसके साथ रहना हमें सबसे अच्छा लगता है। क्या आप यह जानना चाहेंगे कि आपका सबसे अच्छा दोस्त और सबसे खराब दुश्मन कौन हो सकता है।

वैसे, इससे पहले कि हम इसके बारे में जानना शुरू करें, सबसे पहले हम धनु राशि वालों की अनोखी विशेषताओं के बारे में जान लेते हैं।


धनु राशि वालों की अनोखी विशेषताएं

धनु राशि एक अग्नि चिह्न है। इस राशि के जो जातक होते हैं, उनमें साहस कूट-कूट कर भरा होता है। बृहस्पति ग्रह अपना विस्तार करके इस राशि को नियंत्रित करने का काम करता है। धनु राशि वाले लोग बहुत ही अच्छा व्यवहार करने वाले होते हैं। उनका स्वभाव भी बहुत ही अच्छा होता है। जीवन में वे जो भी करते हैं, उन सभी के प्रति उनका नजरिया भी आशावादी होता है। अचानक से आने वाली चीजों के लिए भी धनु राशि वाले एकदम तैयार रहते हैं। वे किसी रेस्टोरेंट में बैठकर भोजन करते वक्त लोगों के साथ हो जाते हैं। कहीं कविता पाठ का सत्र चल रहा हो, तो वहां भी वे भाग लेने के लिए पहुंच जाते हैं। इस तरह से घुल-मिलकर रहना उन्हें पसंद होता है।

धनु राशि वालों की यह भी खासियत होती है कि वे किसी भी चीज पर निशाना सटीक लगाने की कोशिश करते हैं। जी हां, जिंदगी में जो अनुभवों का खजाना होता है, वे उसका हिस्सा बनना चाहते हैं। उसके बारे में जानना चाहते हैं। उन चीजों के बारे में जानना चाहते हैं, जो बाकी दूसरी चीजों से अलग हैं। दुनिया के हर अनुभव का आनंद लेने की उनमें असीम इच्छा होती है। आप इन अनुभवों का आनंद उठाना चाहते हैं। फिर भी धनु राशि वाले कई बार थोड़े उग्र स्वभाव के भी हो जाते हैं। आजादी उन्हें बहुत प्यारी होती है। उन लोगों के साथ वे बहुत ही अच्छी तरह से घुलमिल जाते हैं, जो उन्हें आजाद रहने देते हैं और उनकी हर खुशी में शामिल होते हैं। वे न तो खुद के द्वारा बनाई गई आर न ही अन्य किसी के द्वारा तैयार की गई टाइमलाइन का अनुसरण करने में विश्वास रखते हैं। इस दुनिया में, इस ब्रह्मांड में हर चीज का हिस्सा बनकर वे उसका आनंद लेते हैं। तरह-तरह की गतिविधियों और चर्चाओं आदि में भी वे प्रतिभाग करते रहते हैं।

तो चलिए अब हम आपको धनु राशि वालों की दोस्त और दुश्मन राशियों के बारे में बताते हैं। इससे आपको यह पता चल पाएगा कि किन राशियों के साथ आपकी अच्छी दोस्ती हो सकती है और किन राशि वालों के साथ आपकी शत्रुता रहेगी।

क्या आपके जीवन में भी आने वाले हैं कई सारे बदलाव
देखिए फ्री जन्मपत्री रिपोर्ट…


धनु की संगति: मेष, मिथुन, सिंह, तुला, धनु और कुंभ राशि के साथ सर्वश्रेष्ठ

मेष

धनु और मेष इन दोनों ही राशियों का अग्नि चिह्न है और दोनों बहुत ही अच्छी तरीके से मिलते हैं। आप दोनों के बीच बहुत ही गहरी संगति हो सकती है। आप दोनों की यह खासियत है कि आप में असीम उर्जा भरी होती है। हर वक्त आप आनंद लेते हैं। साथ ही मस्ती से भरा हुआ आपका अंदाज रहता है। मेष राशि वाले बड़े ही सहज होते हैं। उन्हें कड़वे लोग पसंद नहीं होते। उनका यह स्वभाव आपको बहुत पसंद आता है। इसके अलावा उनका सेंस ऑफ ह्यूमर भी कमाल का होता है। हास्य-विनोद में वे शामिल रहते हैं, जिसे आप पसंद करते हैं। आप दोनों ज्यादा ही सक्रिय रहते हैं। खेलकूद में भाग लेते हैं। एक साथ आप कसरत और व्यायाम आदि करते हैं। बड़े ही उत्साह के साथ आप अपनी जिंदगी में घटने वाली सभी घटनाओं का आनंद लेते हैं। मेष राशि के जातक धनु राशि के जातकों के साथ कभी भी शत्रुता नहीं कर सकते।

मिथुन

ज्योतिषीय हिसाब से देखा जाए तो ये दोनों एक-दूसरे के विपरीत जरूर हैं, मगर एक-दूसरे के पूरक भी हैं। आपका जो मिथुन दोस्त है, वह आपके अंदर भी झांक लेता है और बाहर से भी आपको समझता है। आपकी छोटी-छोटी बारीकियों को समझने में वह पूरी तरीके से सक्षम हो सकता है। आप दोनों बड़े ही पक्के दोस्त हो सकते हैं। आप दोनों की यह खासियत है कि आप बड़े ही मिलनसार प्रवृत्ति के लोग हैं। एक-दूसरे का जो दोस्तों का बड़ा समूह बना हुआ है, आप उसके साथ जुड़कर उसका आनंद लेते हैं। यहां तक कि यात्रा के लिए भी आप दोनों का जुनून एक जैसा होता है। आपके मिथुन की दोस्त की यह विशेषता होती है कि आपके दिमाग तक वह पहुंच जाता है। आपको उसकी किसी भी बात का बुरा नहीं लगता। बिल्कुल स्कूल जैसी दोस्ती आप दोनों एक-दूसरे के साथ साझा करते हैं।

सिंह

आपके जितने भी दोस्त हैं, उन सभी में सिंह शायद आपका सबसे अच्छा दोस्त हो सकता है। आप दोनों एक-दूसरे की संगति को बहुत ही पसंद करते हैं। सिंह राशि के जातकों का स्वभाव बड़ा ही चंचल होता है। साथ ही आपके विनोदी स्वभाव के भी वे बड़ी तारीफ करते हैं। आपके अंदर बिल्कुल एक जैसा जबरदस्त उत्साह होता है और वे इसकी सराहना करते हैं। आप दोनों में आत्मविश्वास भरपूर होता है। रोमांचक यात्राओं पर आप साथ में निकल जाते हैं। आप साथ में खेलते-कूदते हैं। जहां भी आप होते हैं, वहां पर आप धूम मचा कर रखते हैं। आप जब एक-दूसरे से मिलते हैं तो एक-दूसरे की तारीफों के पुल बांध देते हैं। आप दोनों ही इस बात को जानते हैं कि छोटे-मोटे झगड़े को कैसे नजरअंदाज किया जाए और लंबे समय तक चलने वाला रिश्ता कायम किया जाए। सिंह राशि के जातक धनु राशि वालों के दोस्तों की सूची में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं।

तुला

तुला राशि वालों की धनु राशि वालों के साथ बहुत ही अच्छी जमती है। धनु राशि वालों को वे बहुत पसंद करते हैं। आप और आपके तुला मित्र को साथ में पार्टी करना बहुत ही पसंद होता है। सभी तरह के कार्यक्रमों और त्योहारों में आप भाग लेते हैं। आप मिलकर खूब धूम मचाते हैं। अपने जीवन में आप दोनों न्याय से जुड़ी चर्चाओं में भाग लेते हैं और पूरे जोश के साथ अपने विचार रखते हैं। जैसे कोर्ट में बहस होती है, उसी तरीके से आप लंबी-चौड़ी बातें करते हैं। बहस करते हैं। इसके बावजूद आप थकते नहीं हैं। दूसरों की राय और उनके निर्णय का भी आप पूरा सम्मान करते हैं और उनमें भरोसा भी रखते हैं। वैसे, तुला मित्र के साथ जो आप खुलकर चर्चा करते हैं, कभी किसी निष्कर्ष पर आप नहीं पहुंच पाते। आपके दोस्त को भी आप पर पूरा भरोसा होता है। किसी भी विषय के बारे में आपका जो ज्ञान और आपकी समझ है, वे उसकी प्रशंसा करते हैं। आप भी उनकी तर्कपूर्ण शक्ति के कायल होते हैं। आप दोनों दोस्त एक-दूसरे की टांग खिंचाई भी करते रहते हैं। तुला राशि वालों की धनु राशि वालों के साथ वास्तव में बहुत अच्छी दोस्ती होती है और वे धनु राशि वालों के दुश्मन नहीं हो सकते।

धनु

आपकी मुलाकात जब अपने धनु राशि वाले दोस्त से होती है, तो आप दोनों खूब धूम मचाते हैं। आप दोनों में ही समान रूप से जोश भरा हुआ होता है। एक-दूसरे के साथ आप अपनी भावनाओं को बहुत ही अच्छी तरीके से साझा करते हैं। आपको घुलने-मिलने में जरा भी देर नहीं लगती। वह इसलिए कि आप दोनों वर्तमान में जीते हैं। आप दोनों ही विनोदी स्वभाव के हैं। परिस्थितियां चाहे कैसी भी हों, आप अपने आशावादी नजरिए को कभी भी अपने से दूर नहीं होने देते हैं। आप हमेशा अज्ञात चीजों की खोज करने में जुटे होते हैं। इसके प्रति आप दोनों में समान आकांक्षाएं होती हैं। एक-दूसरे को हंसाने के लिए आप चुटकुले भी सुनते और सुनाते हैं। अपने धनु मित्र के साथ आप बहुत ही अच्छी तरह से अपनी संगति बैठा लेते हैं। आप दोनों की दोस्ती बड़ी ही मजेदार और खुशी देने वाली होती है।

कुंभ

कुंभ राशि वालों के साथ भी धनु राशि वाले जातकों के संबंध बहुत ही अच्छे होते हैं। दोनों की दोस्ती में संतोष की भावना होती है। धनु और कुंभ इन दोनों ही राशि के जातक बड़े ही मिलनसार स्वभाव के होते हैं। इनमें साहस भी भरपूर होता है। साथ ही ये दार्शनिक तरह के लोग होते हैं। जिंदगी में हमेशा नए अनुभवों को ये वरीयता देते हैं और इनसे सीखते रहते हैं। नए स्थानों का पता लगाने में ये आगे रहते हैं। अलग-अलग तरह के लोगों से मिलना-जुलना और रोमांचक विषयों पर विस्तृत चर्चा करना इन दोनों को बहुत ही पसंद होता है। इन दोनों का रिश्ता ऐसा है कि इनके बीच ईर्ष्या के लिए तो कोई जगह ही नहीं है।


धनु की संगति: कन्या और मीन राशि के साथ सबसे खराब

कन्या

इन दोनों ही राशि के जातकों की जिंदगी में चुनौतियां भरी होती हैं और जब दोनों की दोस्ती की बात भी आती है, तो इस दोस्ती को निभाना इनके लिए चुनौतीपूर्ण हो जाता है। इन दोनों का ज्यादातर वक्त एक-दूसरे के साथ मतभेदों में ही बीतता है। कन्या राशि के जातक बड़ी छोटी-छोटी बातों पर भी ध्यान देते हैं। वहीं, आपकी यह खासियत है कि आप बड़े परिदृश्य पर हमेशा नजर रखते हैं। छोटी-मोटी चीजें आपके लिए मायने नहीं रखतीं। आपकी दृष्टि बड़ी ही व्यापक होती है। कन्या राशि वाले जातकों का यह स्वभाव होता है कि वे बहुत सतर्क रहते हैं। इससे आपको अच्छा महसूस नहीं होता। यही वजह है कि कन्या राशि वाले धनु राशि वालों के सबसे खराब दुश्मनों में से एक हैं।

मीन

मीन राशि वाले अपने दोस्तों से यह उम्मीद करते हैं कि वे उनका सपोर्ट बन कर लगातार उनके साथ रहें। वहीं, आपको अपनी आजादी बहुत ही पसंद होती है। मीन राशि वाले कई बार बहुत ही भावुक हो जाते हैं। उनका मूड भी बहुत ही तेजी से बदलता रहता है। इसके साथ आपके लिए सामंजस्य बैठाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है। अपने दोस्त के साथ ईमानदार बने रहना आपके लिए किसी सजा से कम नहीं होता। आपका स्वभाव होता है कि आप घूमना-फिरना पसंद करते हैं, जबकि मीन राशि वाले जातक बैठकर सपने देखना ज्यादा पसंद करते हैं। इस तरह से आप दोनों के बीच दोस्ती नहीं जमती।


निष्कर्ष

जिंदगी में दोस्ती होना और दुश्मनी होना, ये चीजें नियमित रूप से चलती रहती हैं। फिर भी इस बारे में निर्णय आपको लेना होता है कि आप किसके साथ कब जुड़ना चाहते हैं और किनसे आप दूर रहना चाहते हैं। जिंदगी बहुत ही अनमोल होती है। ऐसे में थोड़ा-बहुत मार्गदर्शन ले लेना इसे जीने के लिए उचित होता है।

धनु राशि की दोस्त और दुश्मन राशियों के बारे में आपने इस लेख में पढ़ लिया है। यदि आप भी धनु राशि के हैं तो आपको यह समझ आ गया होगा कि किनके साथ आपकी दोस्ती खूब जमेगी और किनके साथ आपकी शत्रुता रहेगी।

ग्रह प्रवेश से पहले जान लीजिए, क्या आपके सपनों पर खरा उतरेगा यह आसियाना, अभी बेहतरीन जीवन के मार्गदर्शन के लिए अभी हमारे विशेषज्ञों से बात करें… पहला कॉल फ्री…