सिंह और कन्या अनुकूलता

वैदिक ज्योतिष के माध्यम से केवल भविष्य का आकलन ही नहीं किया जाता, बल्कि किसी रिश्ते की अनुकूलता का अध्ययन भी आसानी से किया जा सकता है। बहुत से लोग जीवनभर के लिए किसी रिश्ते में उतरने से पहले एक-दूसरे से अनुकूलता जरूर जानना चाहते हैं। ज्योतिष के माध्यम से प्रेम संबंध, रिश्तों की मजबूती और लंबे समय तक टिके रहने वाले रिश्ते को जाना जा सकता है। यहां हम सिंह और कन्या राशि के बीच की अनुकूलता को जानने का प्रयास करेंगे।

सिंह

23 Jul - 23 Aug

कन्या

24 Aug - 22 Sep
उदार
सेल्फ अवेयर
रेस्पेक्टफुल
आशावाद
लविंग
सिस्टेमेटिक
अनालिटिकल
एक्सप्रेसिव
शांत
सीरियस

सिंह – कन्या लव कंपेटेबिलिटी

सिंह और कन्या सूर्य और बुध ग्रहों द्वारा शासित होते हैं। अग्नि चिह्न होने के कारण सिंह इमोशनल, एनर्जेटिक और एग्रेसिव होते हैं। वहीं कन्या राशि के लोगों का नेचर सिंह से अपोजिट होता है, आइए इनकी लव लाइफ के बारे में कुछ जानें कुछ अधिक-

  • सिंह और कन्या प्रेम संबंध के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि वे अपने सहयोगियों के लिए बेहद फलेक्जिबल होते हैं। आपसी समझ इस रिश्ते का मूल है। वे अपने साथी के लिए अपनी गतिशीलता में परिवर्तन करने के बारे में दो बार भी नहीं सोचेंगे।
  • सिंह को अक्सर सर्वश्रेष्ठ लवर के रूप में टैग किया जाता है और एकमात्र चीज जो उन्हें उस मुकुट को पहनने से रोक रहा है वह है कमिटमेंट, जो उनके रिश्ते में परेशानियां पैदा कर सकता है।
  • दोनों साइन समझते हैं कि एक रिश्ते में भी सभी को कुछ पर्सनल स्पेस की जरूरत होती है। सिंह – कन्या के रिश्ते में भी यह बात साफतौर पर नजर आती है कि वे दोनों ही एक-दूसरे की इंडिपेंडेस को लेकर सतर्क होते हैं खासकर जब बात लव लाइफ की हो।

सिंह – कन्या संबंधों के फायदे

सिंह और कन्या राशियों के लोग एक-दूसरे के साथ अच्छी तरह मेल खाते हैं। वे दोनों ही सुरक्षा, वफादारी और ईमानदारी को अधिक महत्व देते हैं और ये सारे ही गुण उनके द्वारा साझा किए जाने वाले लगभग हर रिश्ते में मौजूद होते हैं। आइए सिंह – कन्या संबंधों के कुछ और फायदे जानें।

  • सिंह और कन्या के संबंधों में कई तरह की अनुकूलता देखने को मिलती है। कन्या प्यार करते हैं और प्यार की चाह रखते हैं, वहीं सिंह को तारीफ और प्रशंसा पसंद होती है, वे दोनों ही एक दूसरे की जरूरतें पूरी करने की संभावना रखते हैं।
  • कन्या अपने प्रियजनों की रक्षा और पोषण के लिए कार्यरत होते हैं, वहीं सिंह जल्द ही कन्या के रोमांटिक पक्ष को समझकर उसके अनुसार कार्य करने लगते हैं।
  • सिंह अपनी लाइफ में आर्ट, लग्जरी और सभी मटेरियलिस्टिक चीजों को पसंद करते हैं, वहीं कन्या लाइफ को आर्टिस्टिक और क्रिएटिव तरीके से जीना पसंद करते हैं। इससे दोनों के बीच बैलेंस बना रहता है।
  • यदि सिंह और कन्या राशि के लोग एक दिशा में एक साथ काम करें, तो सही समय पर सही फैसले लेने की संभावना को बल मिलता है।
  • सिंह और कन्या के रिश्ते इसलिए भी अनुकूल होते हैं, क्योंकि दोनों के पास एक-दूसरे को देने के लिए वह है, जो वे अपने पार्टनर से चाहते हैं।

सिंह – कन्या संबंधों के नुकसान

सिंह और कन्या दोनों ही ईमानदार होते हैं, और उनके बीच आकर्षण भी होता है, लेकिन रिश्ते की स्थिरता अनिश्चित है। आइए थोड़ा विस्तार से जानें सिंह और कन्या संबंधों में क्या-क्या परेशानियां आ सकती है।

  • सिंह और कन्या राशियों के बीच कुछ समानताएं है, वहीं वे एक दूसरे के काफी विपरीत भी हैं। सिंह – कन्या संबंध नेगेटिव रूप से अधिक एक्टिव माने जा सकते हैं।
  • सिंह और कन्या के बीच सबसे बड़ी समस्या है उनके लाॅजिकल डिसएग्रीमेंट। यदि वे किसी बात को लेकर एक दूसरे से असहमत हैं, तो वे सार्वजनिक रूप से वाद विवाद करने में भी पीछे नहीं हटते।
  • सिंह जातक एग्रेसिव और उत्साही है, वे सदैव नई और रोमांचक चीजों का अनुभव करने के लिए तैयार रहते हैं। जबकि कन्या राशि के लोगों को प्लानिंग करना पसंद होता है और वे उनमें बदलाव नहीं करना चाहते हैं।
  • सिंह – कन्या दोनों ही एक-दूसरे की गलतियों को भूलने और माफ करने सक्षम नहीं है। यदि वे एक दूसरे को माफ करना और चीजों को लेकर समझौता करना सीख लेते हैं, तो उनके बीच चीजें बहुत सहज हो सकती है।

सिंह – कन्या मैरिज कंपेटेबिलिटी

जब कन्या राशि के तहत पैदा हुए लोग अपने लाइफ पार्टनर के तौर पर सिंह राशि के साथ मैरिड लाइफ में बंधते हैं तो उनके रिश्तों की अनुकूलता का स्तर क्या होगा? आइए जानते हैं कुछ अधिक।

  • सिंह और कन्या का रिश्ता सुंदरता और लग्जरी का शानदार मिक्स हो सकता है। उनकी जोड़ी किसी राजा और रानी की तरह दिखाई देती है।
  • सिंह और कन्या दोनों ही राशियां जो सबसे अनुकूल गुण साझा करते हैं, वह है लाॅयल्टी। वे दोनों कभी अपने पार्टनर को धोखा नहीं देते हैं, जिससे इनकी मैरिड लाइफ की सफलता सुनिश्चित होती है।
  • सिंह और कन्या दोनों ही ड्रामेबाज और अहंकारी होते हैं और अपने इन्हीं हथियारों के उपयोग से लोगों को पराजित करते हैं, लेकिन घर पर दोनों ही बेहद शांत और सहयोगी होते हैं।

सिंह – कन्या सेक्सुअल कंपेटेबिलिटी

सिंह और कन्या दोनों ही विपरीत स्वभाव की राशियां है, अभी तक हमने इनके बीच लव और मैरिड लाइफ की अनुकूलता के बारे में, अब हम सिंह – कन्या की सेक्सुअल अनुकूलता के बारे में बात करेंगे।

  • सिंह इमोशनल और करिश्माई होते है, वहीं कन्या रिजर्व होते हैं। इसमें कोई संदेह नहीं कि सिंह और कन्या के सेक्सुअल रिलेशन बेहतरीन हो सकते हैं।
  • इनके सेक्सुअल रिलेशन में कन्या को थोड़ा साहसी होना चाहिए और सिंह को कन्या जातकों पर हावी होने से बचना चाहिए।
  • यदि सिंह और कन्या अपने अंतरंग संबंध सदैव बनाए रखना चाहते हैं, तो उन्हें एक दूसरे से बहुत कुछ सीखना होगा। वे दोनों ही सेक्सुअल रिलेशन के लिए एक्टिव राशियां है, लेकिन उन्हें आपसी तालमेल बढ़ाते हुए अधिक इमोशनल अटेचमेंट की ओर बढ़ना चाहिए।

सिंह के स्वामी सूर्य हैं, वहीं कन्या राशि के स्वामी बुध हैं। सिंह और कन्या के बीच इस रिश्ते को विकसित होने में थोड़ा समय लगता है, क्योंकि वे दोनों साथी धीरे – धीरे एक दूसरे को समझते हैं और दूसरे की सराहना करते हैं। विभिन्न व्यक्तित्व होने के बावजूद यह एक अत्यधिक अच्छी जोड़ी हो सकती है।

Your Zodiac Sign

Your Partner's Zodiac Sign